close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार कांग्रेस ने मीडिया पर फोड़ा हार का ठीकरा, प्रवक्ताओं के बयान देने पर लगाई रोक

पार्टी आलाकमान की ओर से एक महीने तक मीडिया के डिबेट में बैठने को लेकर अपने प्रवक्ताओं को मना कर दिया गया है. लेकिन बिहार कांग्रेस कमिटि अपने आलाकमान के फैसले से एक कदम आगे बढ़ गई है.

बिहार कांग्रेस ने मीडिया पर फोड़ा हार का ठीकरा, प्रवक्ताओं के बयान देने पर लगाई रोक
बिहार कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहना झा.

पटना : बिहार में कांग्रेस की हार को लेकर नेताओं के मंथन का दौर जारी है. पार्टी की हार को लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेता हर दिन अपने विचार रख रहे हैं. इधर पार्टी के अध्यक्ष मदन मोहन झा ने अघोषित रूप से अपने पार्टी के नेताओं के लिए फरमान जारी कर दिया है. पार्टी के प्रवक्ता और नेताओं को मीडिया में बयान देने पर रोक लगा दी गई है. यहां तक की मदन मोहन झा ने भी किसी भी मीडिया को बयान नहीं देने का फैसला लिया है.

दरअसल पार्टी आलाकमान की ओर से एक महीने तक मीडिया के डिबेट में बैठने को लेकर अपने प्रवक्ताओं को मना कर दिया गया है. लेकिन बिहार कांग्रेस कमिटि अपने आलाकमान के फैसले से एक कदम आगे बढ़ गई है. प्रदेश अध्यक्ष ने पार्टी के प्रवक्ताओं और नेताओं को मीडिया में बयान तक देने से मना कर दिया है. इस तर्क के पीछे वजह ये है कि पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को लग रहा है कि उनकी हार मीडिया की वजह से हुई है.

मदन मोहन झा के निर्देश से पहले बिहार कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने भी बिहार कांग्रेस के नेताओं से मीडिया में अपनी बात नहीं रखने की सलाह दी है. गोहिल ने कहा है कि मीडिया में कांग्रेसी नेताओं के बात रखने के कारण पार्टी कमजोर हो रही है. इसलिए मीडिया में बयान देना बिल्कुल सही नहीं है.

गौरतलब है कि पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने बिहार में पार्टी की बुरी हार के लिए प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल और अध्यक्ष मदन मोहन झा को जिम्मेदार ठहरा दिया है. ऐसे में पार्टी के बिहार आलाकमान ने कांग्रेसियों के मुंह पर ताला लगाकार अपनी साख बचाने की कोशिश जरूर शुरू कर दी है.