पूर्व मंत्री मंजू वर्मा जेल से पहुंची विधानसभा, लड्डू और गाजा का उठाया लुत्फ

जेडीयू विधायक पूर्व मंत्री मंजू वर्मा सोमवार को लंबे समय बाद विधानसभा पहुंचीं. बजट सत्र में ये उनका पहला दिन था. जब वो सदन की कार्यवाही में शामिल होने विधान सभा पहुंची थीं.

पूर्व मंत्री मंजू वर्मा जेल से पहुंची विधानसभा, लड्डू और गाजा का उठाया लुत्फ

पटना: आर्म्‍स एक्ट में जेल में बंद पूर्व मंत्री मंजू वर्मा लंबे समय बाद सोमवार को बिहार विधानसभा पहुंचीं. मंजू वर्मा पूरे दिन पत्रकारों से बचती रहीं. शाम के वक्त पत्रकारों से हुए सामना में मंजू वर्मा ने पत्रकारों के हर सवाल पर चुप्पी साधे रखी. हालांकि लंबे समय बाद सदन पहुंचीं मंजू वर्मा ने विधानसभा कैंटीन में मिलने वाले घी के लड्डू और गाजे का भरपूर लुत्फ उठाया.

जेडीयू विधायक पूर्व मंत्री मंजू वर्मा सोमवार को लंबे समय बाद विधानसभा पहुंचीं. बजट सत्र में ये उनका पहला दिन था. जब वो सदन की कार्यवाही में शामिल होने विधान सभा पहुंची थीं. पत्रकारों से बचते बचाते मंजू वर्मा 11 बजे विधानसभा में दाखिल हो गईं. और शाम 6 बजे तक  विधानसभा के अंदर ही रहीं. मंजू वर्मा को विधानसभा कडी सुरक्षा के बीच लाया गया था. मंजू वर्मा के साथ महिला और पुरुष सुरक्षाकर्मियों के साथ वज्रवाहन की टीम भी बेगुसराय से पटना पहुंची थी.

विधानसभा की कार्यवाही में शामिल होने के दौरान ये उम्मीद की जा रही थी कि मंजू वर्मा सीएम नीतीश कुमार और विधानसभा अध्यक्ष से भी मिलेंगी. लेकिन दोनों के चैंबर में एकांत नहीं होने की वजह से मंजू वर्मा की मुलाकात नहीं हो सकी. मजबूरन मंजू वर्मा सत्ता पक्ष की लॉबी में ही बैठकर विधायकों और मंत्रियों के बीच अपनी बेगुनाही के सूबत गिनाते रहीं.

लॉबी में बैठी मंजू वर्मा विधायकों से ये कहती नजर आयीं कि उन्हें फंसा दिया गया है. यहां कि उन्हें बेल मिलने ही वाली थी कि मीडिया ने उनका सारा काम बिगाड़ दिया. विधायकों के साथ हुई बातचीत के दौरान मंजू वर्मा विधानसभा कैंटीन में मिलने वाले नाश्ते का भी लुत्फ लेती रहीं. दरअसल लंबे समय से जेल में रहने के कारण पूर्व मंत्री अच्छे खाने से दूर रही हैं और जैसे ही विधानसभा आने का मौका उन्हें हाथ लगा उन्होंने विधानसभा कैंटीन के घी वाले लड्डू, गाजा, आलू चॉप और पनीर के पकौड़े का आनंद लिया. स्वादिष्ट नास्ते के साथ मंजू वर्मा विधायकों और मंत्रियों के बीच अपने दुख को शेयर करती रहीं.

विधानसभा की कार्यवाही खत्म होने के घंटे भर बाद भी मंजू वर्मा विधानसभा परिसर में घूमती रहीं. दरअसल विधानसभा की कार्यवाही खत्म होने के बाद मंजू वर्मा को वापस ले जाने के लिेए सुरक्षाकर्मियों को घंटों इंतजार करना पड़ा. मंजू वर्मा किसी न किसी बहाने विधानसभा के अंदर ही घूमती रहीं.  लेकिन शाम छह बजे थक हारकर जब मंजू वर्मा वापस जेल जाने लगीं तो पत्रकारों से उनका सामना हो ही गया. पत्रकारों  ने मंजू वर्मा से उनकी और नीतीश कुमार की राजनीति को लेकर काफी सवाल किये लेकिन मंजू वर्मा हर सवाल पर खामोश रहीं.

इधर संसदीय कार्यमंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि मंजू वर्मा अदालत से मंजूरी लेकर सदन की कार्रवाई में शामिल होने पहुंची थी. जो भी प्रक्रिया थी उस प्रक्रिया के तहत ही मंजू वर्मा विधानसभा पहुंची थीं.