बिहारः CPI 17 मार्च को लेगी अंतिम फैसला, लालू यादव से चल रही है सीटों पर बात

सीपीआई ने महागठबंधन में एक सीट लेने से इनकार किया है.

बिहारः CPI 17 मार्च को लेगी अंतिम फैसला, लालू यादव से चल रही है सीटों पर बात
सीपीआई बिहार में सीटों को लेकर 17 मार्च को अंतिम फैसला लेगी. (प्रतीकात्मक फोटो)

पटनाः बिहार में महागठबंधन के फॉर्मूले का सबको इतंजार है. एक ओर जहां महागठबंधन के कुछ नेता बोल रहे हैं कि सारी चीजें तय हो चुकी है. समय आते ही सभी बातों को घोषणा हो जाएगी. वहीं, महागठबंधन के नेताओं के बार-बार सब ठीक होने के दावों के बाद कोई ने कोई दल सीटों को लेकर नाराज दिखता है. जीतनराम मांझी ने पहले ही सम्मानजनक सीट को लेकर चेतावनी दे रहे हैं. वहीं, बिहार में लेफ्ट पार्टी को महागठबंधन में एक सीट देने की बात सामने आई है. जिसके बाद सीपीआई का कहना है कि लालू यादव से बात चल रही है. 17 मार्च तक फैसला कर लिया जाएगा.

महागठबंधन में फॉर्मूला क्या होगा अब तक कोई निष्कर्ष नहीं निकल पाया है. हर बार महागठबंधन के दल मिलते हैं और लोगों को आश्वासन देते हैं कि उनके बीच सब ठीक है. लेकिन इसके तुरंत बाद ही कई नेता नाराज दिखते हैं और महागठबंधन के फॉर्मूले पर नाराजगी जताते हैं.

लेफ्ट पार्टी को महागठबंधन में एक सीट देने की बात सामने आई है. इस बात की पुष्टि सीपीएम ने खुद की है. सीपीएम के राज्य सचिव कुणाल ने कहा है कि महागठबंधन की तरफ से 1 सीट का ऑफर दिया गया था, लेकिन लेफ्ट 6 सीटें चाहती है. ऐसे में एक सीट लेना उचित नहीं हैं.

उन्होंने बताया कि सीटों को लेकर उनकी पार्टी की बात आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव से हो रही है. कुणाल ने कहा कि बिहार में वामपंथ एक मजबूत ताकत है लेफ्ट को अगर बिहार में उचित भागीदारी नहीं मिलती है तो बीजेपी को हराना मुश्किल होगा.

वहीं, सीपीआई नेता राम नरेश पांडेय ने कहा कि लेफ्ट बिहार में काफई अंदर तक मजबूत है. उन्होंने कड़े लहजे में कहा कि महागठबंधन के किनारे करने से जनता की अदालत में हम किनारा नहीं हो जाऐंगे. उन्होंने कहा कि 17 मार्च को लेफ्ट अंतिम निर्णय लेगा कि उन्हें आगे क्या करना है.

बता दें कि लेफ्ट को एक सीट दिए जाने की बात हो रही है. वहीं, लेफ्ट ने कन्हैया कुमार को बेगूसराय सीट के लिए उम्मीदवार घोषित कर दिया है. हालांकि सीपीआई का कहना है कि पार्टी ने 6 सीटों पर पूरी तैयारी कर ली है. इसलिए वह किसी भी हालत में एक सीट नहीं लेंगे.