close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मुजफ्फरपुर: बैखौफ अपराधी ने दिनदहाड़े घर में घुसकर की मारपीट, मासूम को भी नहीं छोड़ा

अपराधी इस कदर बेखौफ हो चुके हैं कि दिनदहाड़े घर में घुसकर वारदात को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस कुछ भी नहीं कर पा रही है.

मुजफ्फरपुर: बैखौफ अपराधी ने दिनदहाड़े घर में घुसकर की मारपीट, मासूम को भी नहीं छोड़ा
मुजफ्फरपुर में घर में धुसकर मारपीट.

मुजफ्फरपुर: एक तरफ सरकार और प्रशासन की तरफ से अपराध पर नियंत्रण लगाने के दावे किए जा रहे हैं वहीं, दूसरी तरफ अपराधी इन सरकारी दावों की धज्जियां उड़ा रहे हैं. बिहार में लगातार वारदात की खबरें सामने आ रही हैं, जो पुलिस की नाकामी दिखाने के लिए काफी है. ताजा मामला मुजफ्फरपुर से सामने आया है. अपराधी इस कदर बेखौफ हो चुके हैं कि दिनदहाड़े घर में घुसकर वारदात को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस कुछ भी नहीं कर पा रही है.

घटना सदर थाना के शेरपुर इलाके की है, जहां कुख्यात अपराधी लोकेश ने अपने पड़ोसी शशि भूषण तिवारी के बेटे को जमीन मापी के लिए कहा था, लेकिन बुज़ुर्ग होने की वजह से शशि भूषण समय पर जमीन की मापी करने नहीं जा पाए. दबंग लोकेश ने शशि भूषण तिवारी के घर पर हमला बोल दिया.

हद तो तब हो गई जब हैवान लोकेश दो साल के बच्चे की भी पिटाई से बाज नहीं आया और इतने से भी जब उसका जी नहीं भरा तो उसने अपने पड़ोसी के परिवार पर दो ख़तरनाक कुत्तों को छोड़ दिया. एक तरफ ख़तरनाक कुत्ते शशि भूषण तिवारी के परिवार पर टूट पड़े. उन्हें नोचते-ख़रोंचते रहे और दूसरी तरफ हैवान बना लोकेश भी रॉड और लाठी से शशि भूषण के परिवार को पीटता रहा. आपको बता दें कि कुख्यात अपराधी लोकेश बैंक लूट जैसे मामलों में भी आरोपी रह चुका है.

इस पूरी घटना को लेकर शशि भूषण तिवारी का कहना है कि लोकेश ने जमीन मापी के लिए कहा था और ज़मीन की मापी नहीं करने पर लोकेश और उसके साथियों ने उनके घर पर हमला बोला. वहीं, शशि भूषण तिवारी की बहु मोनी तिवारी की मानें तो लोकेश और उसके साथ आए बदमाशों ने उनके पूरे परिवार के लोगों के साथ मार-पीट की उन पर कुत्तों को छोड़ दिया. इस दौरान परिवार के कई सदस्यों को कुत्तों ने काटा और जब शशि भूषण तिवारी का परिवार पुलिस के पास पहुंचा तो पुलिस ने कोई कार्यवाई करने के बजाय़ महज़ खानापूर्ति की.

हांलाकि पूरे मामले में पीड़ित की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है लेकिन कोई भी पुलिस अधिकारी फिलहाल इस मामले में कुछ भी बोलने से परहेज कर रहे हैं. वहीं पूरे मामले को लेकर मुजफ्फरपुर पुलिस का कहना है कि मामला दर्ज कर लिया गया. जांच के दौरान जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके ख़िलाफ उचित कार्यवाई होगी. 
दबंग लोकेश और उसके बदमाश साथियों की इस हिमाक़त के बाद शशि भूषण तिवारी का पूरा परिवार सहमा हुआ है. फिर भी उन्हें उम्मीद है कि पुलिस अपना काम करेगी और उन्हें इंसाफ ज़रूर मिलेगा.

-- Rashmi Sharma, News Desk