जमशेदपुर पुलिस की अनोखी पहल, दिया क्रिसमस और न्यू ईयर का अनोखा तोहफा
topStories0hindi1500572

जमशेदपुर पुलिस की अनोखी पहल, दिया क्रिसमस और न्यू ईयर का अनोखा तोहफा

जमशेदपुर शहर के लोगों को पुलिस ने क्रिसमस और न्यू ईयर का तोहफा दिया. इस दौरान पहली बार किसी जिले में इतनी बड़ी संख्या में लूट, छिनतई और चोरी के मोबाइलों को पुलिस ने बरामद किया है.

जमशेदपुर पुलिस की अनोखी पहल, दिया क्रिसमस और न्यू ईयर का अनोखा तोहफा

जमशेदपुर: जमशेदपुर शहर के लोगों को पुलिस ने क्रिसमस और न्यू ईयर का तोहफा दिया. इस दौरान पहली बार किसी जिले में इतनी बड़ी संख्या में लूट, छिनतई और चोरी के मोबाइलों को पुलिस ने बरामद किया है. हाथों हाथ पीड़ित परिवार के लोगों को उनके मोबाइल को सौंपा गया. जमशेदपुर एसएसपी प्रभात कुमार के नेतृत्व में टीम का गठन कर शहर में लगभग ऐसे 110 मामलों का खुलासा किया गया और अपराधियों की गिरफ्तारी भी की गई.

चोरी के 230 मोबाइल बरामद 
वहीं उनकी निशानदेही पर अन्य और 230 मोबाइलों को जल्द बरामद किया जाएगा. मोबाइल बरामद होते ही पुलिस की ओर से शहर के विभिन्न थानों में मोबाइल चोरी, छिनतई की शिकायतकर्ताओं को फोन कर बुलाया गया. बिष्टुपुर थाना के सभागार में सभी लोगों को बुलाया गया, जहां इस दौरान एसएसपी प्रभात कुमार समेत डीएसपी और तमाम थाना प्रभारी मौजूद रहे. जब लोगों के चोरी हुए मोबाइल को पुलिस द्वारा उनके हाथों में दिया गया तो लोग भी हैरान हो गए और उनके चेहरे खिल उठे. लोगों का कहना था कि आज तक पहली बार इस तरह की पहल की गई जो काफी सराहनीय है.

पुलिस ने 59 लोगों को दिया मोबाइल गिफ्ट
जमशेदपुर पुलिस ने पहली बार चोरी के मोबाइल जनता को सुपुर्द किया है. यह मोबाइल उन लोगों को दिए गए जिनके मोबाइल चोरी हो चुके थे और स्थानीय थाने में मोबाइल चोरी का एफआईआर दर्ज करवाई गई थी. जिला पुलिस कप्तान प्रभात कुमार ने एक टीम का गठन कर 150 मोबाइल शहर से बरामद किए है. हालांकि आज 59 लोगों को मोबाइल दिया गया है. 

एसएससी प्रभात कुमार ने यह मोबाइल मालिकों को देखकर क्रिसमस और नववर्ष का तोहफा देते हुए शुभकामना दी. वहीं इस मौके पर सभी मोबाइल धारकों को शपथ दिलाई गई कि दुपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट का प्रयोग करें और कार चला रहे हैं तो सीट बेल्ट जरूर लगाएं. साथ ही गाड़ी की पूरी कागजात अपने साथ रखें. 

लोगों ने किया पुलिस का दिल से धन्यवाद
पीड़ित परिवार का कहना है कि घर से मोबाइल की चोरी हो जाती है और स्थानीय थाने में शिकायत दर्ज करने के बाद हम भूल जाते थे कि अब हमारा फोन मिलेगा, बस अब सोच रहे थे कि मोबाइल में पूरे परिवार का डाटा और परिवार की पुरानी फोटो अब कभी नहीं मिल पाएगी. फोन मिलेगा भी तो थाने और कोर्ट के चक्कर के चलते लोग फोन लेना नहीं चाहते थे. मगर जमशेदपुर एसएसपी के इस अनोखे पहल से हम लोगों में काफी खुशी की लहर है जो इतने पुराने चोरी हुए फोन आज आसानी से हमारे हाथों में आ गए और हमारे पूरे पुराने फोटो और डाटा हमारे फोन में मौजूद है. हम जमशेदपुर पुलिस का दिल से धन्यवाद करते हैं.

झारखंड राज्य में पहला यह जिला है जिसमें पुलिस द्वारा अनोखी पहल की गई है. जहां पुलिस कप्तान अपने पुलिस अधिकारियों की पीठ थपथपा रही हैं तो वहीं शहर की जनता पुलिस को धन्यवाद देते नहीं थक रही है. अब कहीं ना कहीं शहर में मोबाइल छिनतई, मोबाइल लूट और मोबाइल चोरी की घटनाओं पर लगाम लगेगा. 

इनपुट- आशीष तिवारी 

यह भी पढ़ें- पूर्व मंत्री नितिन नवीन ने RJD पर किया पलटवार, कहा- भाजपा राज में नहीं हुआ दंगा

 

Trending news