close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीजेपी से खुश नहीं हैं झारखंड के आदिवासी, विकास के नाम पर कर रहे हैं विनाश: JDU

सलखन मुर्मू ने बीजेपी पर भी निशाना साधा और कहा कि यहां के आदिवासी बीजेपी से भी खुश नहीं हैं, यह बात यहां के पांच लोकसभा सुरक्षित क्षेत्र में बीजेपी के प्रदर्शन को देखकर प्रमाणित होता है.

बीजेपी से खुश नहीं हैं झारखंड के आदिवासी, विकास के नाम पर कर रहे हैं विनाश: JDU
जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष ने बीजेपी पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

रांची: आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जेडीयू ने भी कमर कस ली है और अब पूरी तैयारी के साथ मैदान में उतरने की तैयारी कर रहा है. इसके अंतर्गत रविवार को झारखंड में जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष सालखन मुर्मू के अध्यक्षता में सदस्यता अभियान की शुरुआत की गई. वहीं, इस दौरान उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि आदिवासी बीजेपी से खुश नहीं हैं.

प्रदेश अध्यक्ष सालखन मुर्मू ने बीजेपी पर भी निशाना साधा और कहा कि यहां के आदिवासी बीजेपी से भी खुश नहीं हैं, यह बात यहां के पांच लोकसभा सुरक्षित क्षेत्र में बीजेपी के प्रदर्शन को देखकर प्रमाणित होता है. पांच सुरक्षित लोकसभा सीट में से बीजेपी 2 सीट हार चुकी है ,बाकी सीटों पर मुश्किल से ही जीत पाई. आगामी विधानसभा चुनाव मोदी जी के नाम से नहीं जीता जा सकता है. 

झारखंड में लोकल नेता लोकल मुद्दे चाहिए जनता दल यू इन्हीं मुद्दों को लेकर आगामी विधानसभा चुनाव लड़ेगी. बीजेपी ने यहां आदिवासी मुख्यमंत्री के जगह गैर आदिवासी मुख्यमंत्री को बिठा दिया. इससे साबित होता है कि बीजेपी का फोकस यहां के आदिवासी मूलवासी पर नहीं है बल्कि बड़े बड़े पूंजीपतियों और यहां के खदानों और संसाधनों लूटने वालों पर हैं. बीजेपी द्वारा यहां विकास के नाम पर विनाश का काम किया जा रहा है. यहां के लोग एक विकल्प तलाश में हैं और जनता यू एक विकल्प बन सकती है क्योंकि लोग बिहार में नीतीश कुमार के सुशासन को देख रहे है. 

प्रदेश अध्यक्ष सलखन मुर्मू ने कहा कि झारखंड यहां के लोगों का बड़ा सपना था और इस 19 सालों में सभी पार्टियों को सरकार बनाने का मौका मिले. लेकिन झारखंड के लोग खुश नहीं है. यहां के लोग एक नए विकल्प की तलाश कर रहे हैं, और इस समय बीजेपी के सामने तमाम प्रमुख विपक्षी पार्टियां जेएमएम जेवीएम आरजेडी सभी फेल हो गए हैं. यह अगर आगामी विधानसभा चुनाव में तमाम विपक्षी पार्टियां एकजुट होकर लड़े तो भी बीजेपी को शिकस्त नहीं दे पाएगी.

नीतीश कुमार ने अपने कामों से बिहार को जीडीपी ग्रोथ में नंबर वन बना दिया है. आगामी झारखंड विधानसभा चुनाव में लड़ाई बीजेपी और जेडीयू के बीच होगी.

इस मौके पर झारखंड के प्रभारी अरुण कुमार सिंह ने कहा कि 9 जून को राष्ट्रीय अध्यक्ष के द्वारा राष्ट्रीय सदस्यता अभियान का उद्घाटन किया गया था. उसी परिपेक्ष में 20 जून को झारखंड प्रदेश में सदस्यता अभियान की शुरुआत की गई है और हर जिले में इसके लिए प्रभारी और पर्यवेक्षक नियुक्त किये गए है और करीब दो लाख सदस्य बनाने की लक्ष्य रखी गई है.