मात्र 3 फीसदी वोट के अंतर से BJP के हाथ से छिन गया झारखंड, 'बागी' ने कर दिया बंटाधार

अब तक हुई मतगणना के अनुसार, झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस व राजद संयुक्त रूप से 81 सीटों में से 46 निर्वाचन क्षेत्रों में जीत की तरफ बढ़ रहे हैं. 

मात्र 3 फीसदी वोट के अंतर से BJP के हाथ से छिन गया झारखंड, 'बागी' ने कर दिया बंटाधार
भाजपा ने 17 सीटों पर जीत दर्ज की है और आठ सीटों पर आगे है.(फोटो- Twitter)

नई दिल्ली: झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो)-कांग्रेस-राष्ट्रीय जनता दल (राजद) गठबंधन झारखंड विधानसभा चुनाव में स्पष्ट जनादेश की तरफ बढ़ रहे हैं और नई सरकार बनाने के लिए तैयार हैं. निर्वाचन आयोग के डाटा के अनुसार, बीजेपी को 33.53 फीसदी वोट मिले, झामुमो-कांग्रेस-राजद को 36 फीसदी वोट मिले. झामुमो, कांग्रेस व राजद को क्रमश: 19.29 फीसदी, 13.78 फीसदी और 2.82 फीसदी वोट मिले. प्रतिष्ठित लड़ाई में मुख्यमंत्री रघुबर दास, भाजपा के बागी सरयू रॉय से जमशेदपुर पूर्वी से 15,000 से ज्यादा वोटों से पीछे हैं.

अब तक हुई मतगणना के अनुसार, झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस व राजद संयुक्त रूप से 81 सीटों में से 46 निर्वाचन क्षेत्रों में जीत की तरफ बढ़ रहे हैं. झामुमो 21 सीटें जीत चुकी है और 9 पर आगे चल रही है. कांग्रेस 10 सीटें जीत चुकी है और छह पर आगे चल रही है. राजद एक सीट जीत चुकी है.

भाजपा ने 17 सीटों पर जीत दर्ज की है और आठ सीटों पर आगे है. ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन (आजसू) ने दो सीटें जीती है. झारखंड विकास मोर्चा-प्रजातांत्रिक (जेवीएम-पी) एक सीट जीत चुकी है और दो पर आगे चल रही है. आजसू प्रमुख सुदेश महतो ने सिल्ली सीट पर 20,000 से ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की है. जेवीएम-पी प्रमुख बाबूलाल मरांडी धनवर सीट पर 17,000 से अधिक वोटों से आगे चल रहे हैं.

झारखंड अर्बन डेवेलपमेंट मंत्री सी.पी.सिंह ने रांची सीट को 3,000 वोटों से बरकरार रखी है. विधानसभा अध्यक्ष दिनेश उरांव, श्रम मंत्री राज पालीवर, शिक्षा मंत्री नीरा यादव व कई दिग्गज पीछे चल रहे हैं. झामुमो-कांग्रेस-राजद के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हेमंत सोरेन (झामुमो प्रमुख) दुमका और बरहेट सीट पर आगे चल रहे हैं.

यह साफ हो जाने पर कि भाजपा चुनाव हार हार गई है मीडिया से बातचीत करते हुए हेमंत सोरेन ने अपनी जीत राज्य के लोगों को समर्पित किया और सहयोगी साझेदारों का विश्वास जताने के लिए आभार जताया. सोरेन ने कहा, "मैं गुरुजी (शिबू सोरेन), लालूजी व सोनिया जी, राहुल जी, प्रियंका जी व उन नेताओं जिन्होंने मुझ में भरोसा व विश्वास जताया उनका आभार प्रकट करता हूं."

सोरेन ने कहा कि एक नए अध्याय की शुरुआत हुई है और यह राज्य के लिए मील का पत्थर होगा. लोगों से किए गए सभी वादों को पूरा किया जाएगा. उन्होंने कहा, "हम गठबंधन के साझेदारों के साथ बैठेंगे और अगले कदम के बारे में निर्णय लेंगे."

इनपुट आईएएनएस से भी