close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हेमंत सोरेन के आवास पर होगी महागठबंधन की बैठक, घोषणा पत्र और चतरा सीट पर होगा मंथन

जेएमएम नेता हेमंत सोरेन के आवास पर महागठबंधन के सभी दलों की अहम बैठक की जाएगी.

हेमंत सोरेन के आवास पर होगी महागठबंधन की बैठक, घोषणा पत्र और चतरा सीट पर होगा मंथन
महागठबंधन की बैठक में घोषणा पत्र और चतरा सीट पर चर्चा की जाएगी. (फाइल फोटो)

रांचीः झारखंड में लोकसभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. बीजेपी और महागठबंधन आमने सामने हैं. राज्य में 14 सीट पर लोकसभा चुनाव होने हैं, एक तरफ बीजेपी आजसू के साथ गठबंधन कर 13-1 के फार्मूले पर चुनाव लड़ रही है. वहीं, दूसरी तरफ महागठबंधन में कांग्रेस जेवीएम और आरजेडी एक साथ चुनाव लड़ रही है. हेमंत सोरेन के नेतृत्व में महागठबंधन की बैठक होनी है. जिसमें साझा घोषणापत्र और कंबाइंड कैंपेनिंग को लेकर रणनीति बनाई जाएगी एक तरफ जहां महागठबंधन का दावा है.

नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन के आवास पर होने वाली महागठबंधन की बैठक को लेकर बीजेपी ने निशाना साधते हुए कहा कि झारखंड में कोई महागठबंधन है ही नहीं और जहां तक साझा घोषणापत्र की बात है तो पहले साझा उम्मीदवार तय कर लें, जिस तरह से चतरा में कांग्रेस और आरजेडी आमने सामने है हजारीबाग और कोडरमा में वाम दल ने अपना उम्मीदवार उतार दिया है. पहले अपने अपने उम्मीदवार साझा तय कर लें, फिर साझा घोषणापत्र तैयार करें.

हेमंत सोरेन के आवास पर महागठबंधन के तमाम दलों के नेताओं के साथ बैठक पर कांग्रेस प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा वैसे तो तमाम पार्टियों ने अपने अपने स्तर पर घोषणा पत्र जारी किया है. लेकिन इस बैठक का खास महत्व इसलिए है कि झारखंड के अछूते उन विषयों को लेकर एक साझा घोषणापत्र या संकल्प पत्र बनाया जाएगा, जिससे कि झारखंड के मुद्दों को मुख्य रूप से उठाया जाए.

उन्होंने कहा कि बीजेपी को यह कोई हक नहीं कि वह महागठबंधन पर सवाल उठाए. वह पहले अपने गिरेबान में झांक कर देखें कि जिस तरह से आजसू के साथ लोकसभा चुनाव में गठबंधन किया है. आजसू ने 4 वर्षों तक सरकार के खिलाफ सरकार में रहते हुए सड़क पर नारेबाजी की है, लेकिन आज दोनों गले मिला कर जनता को गुमराह करना चाहते हैं.

महागठबंधन की अहम बैठक को लेकर नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि आज की बैठक बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि चुनाव की तारीख नजदीक हैं इसलिए रणनीति भी स्पष्ट होनी चाहिए. आज की बैठक में तमाम विपक्षी दलों के बड़े नेता शामिल होंगे. जेएमएम प्रवक्ता विनोद पांडे ने कहा कि चतरा में जो असमंजस की स्थिति बनी है उस पर भी आज मंथन किया जाएगा और एक स्पष्ट निर्णय लिया जाएगा ताकि लोगों के बीच कोई कंफ्यूजन न हो और महागठबंधन के उम्मीदवार कौन हैं और उन्हें कैसे जीत दिलाई जाए इस पर आज विस्तृत चर्चा होगी.

अब देखना होगा की आज की महागठबंधन की बैठक में क्या कुछ निर्णय निकल कर आ रहे हैं. हालांकि पिछले बैठक में भी चतरा सीट को लेकर आरजेडी कांग्रेस के विवाद पर महागठबंधन के नेताओं ने कहा था कि बातचीत अभी जारी है. उसका भी समाधान निकल जाएगा लेकिन नाम वापसी के दिन भी बीत चुके हैं. अब ऐसे में क्या निर्णय लेते हैं यह देखने वाली बात है साथ ही घोषणा पत्र में क्या कुछ विषय शामिल किए जाते हैं यह महत्वपूर्ण होगा.