close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लालू यादव से मिलने के बाद भी सीटों को लेकर नहीं घट रही मांझी की चिंता

जीतनराम मांझी ने शनिवार को लालू यादव से मुलाकात की थी.

लालू यादव से मिलने के बाद भी सीटों को लेकर नहीं घट रही मांझी की चिंता
लालू यादव से मुलाकात के बाद भी सीटों को लेकर मांझी ने चिंता जताई. (फोटो साभारः Twitter)

नई दिल्लीः हिंदुस्तानी अवामी मोर्चा (हम) प्रमुख जीतनराम मांझी की चिंता महागठबंधन की सीट शेयरिंग को लेकर बढ़ती जा रही है. शनिवार को लालू यादव से मुलाकात के बाद भी शायद सीट शेयरिंग का मसला सुलझ नहीं पाया है. क्योंकि सीटों के बंटवारे के लिए मांझी की चिंता कम नहीं हो रही है. इस बारे में उन्होंने खुद कहा है.

मांझी ने लालू यादव से मुलाकात के बाद कहा कि बिहार में प्रस्तावित महागठबंधन में सीटों के बंटवारे को लेकर हम लोग चिंतित हैं क्योंकि महागठबंधन के सभी घटकों को चुनावों में अपने उम्मीदवार उतारने के लिए सम्मानजनक सीटें मिलनी चाहिए.

मांझी ने कहा, 'लालू यादव ने महागठबंधन के सभी घटक दलों से मिल-बैठकर सीटों के तालमेल पर बातचीत करने को कहा है.' यह पूछे जाने पर कि क्या सीटों के बंटवारे को लेकर महागठबंधन में कोई तकरार है, मांझी ने कहा कि महागठबंधन के सदस्यों में कोई भी विवाद नहीं है, लेकिन सभी के सम्मान की रक्षा होनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि लालू स्वयं आरजेडी, कांग्रेस, हम तथा अन्य छोटे दलों के बीच चुनावों के लिए सीटों के बंटवारे पर शीघ्र बैठक किये जाने के पक्षधर हैं. इस बीच सीटों के बंटवारे को लेकर मीडिया में आ रही तरह तरह की खबरों का मांझी ने खंडन किया और कहा कि अभी कोई फार्मूला तय ही नहीं हुआ है तो सीटें कैसे तय हो जायेंगी? मांझी ने कहा, 'यदि हम मिलकर लड़ेंगे तो हम निश्चित तौर पर राजग को परास्त करेंगे लेकिन यदि हम अलग अलग लड़े तो राजग नहीं हारेगा और यह देश के लिए बड़ा नुकसान होगा.'

हालांकि जीतनराम मांझी का मानना है कि सीटों का बंटवारा सही तरीके से हो, जिससे की सभी दलों को सम्मानजनक सीट मिले. लेकिन जीतनराम मांझी के बात करें तो यह उनके बदलते हुए सुर हैं. महागठबंधन को एकजुट करने की कवायद करने वाले मांझी ने पहले कहा था कि वह एनडीए को हराने के लिए चुनाव नहीं भी लड़ सकते हैं. वहीं, अब कांग्रेस से अधिक सीटों का दावा और सम्मानजनक सीटों की बात करे रहे हैं.