Jharkhand: स्कूल डायरेक्टर ने किया गंदा काम, सहनशक्ति जांच के बहाने नबालिगों का छुआ Private Part

Crime news: इस घटना को उजागर करने वाली समाजसेवी महिला लक्ष्मी बाखला ने कहा कि इस प्रकार से नाबालिगों या बालिगों के साथ ऐसा कुकृत्य बहुत ही निंदनीय है.

Jharkhand: स्कूल डायरेक्टर ने किया गंदा काम, सहनशक्ति जांच के बहाने नबालिगों का छुआ Private Part
नर्सिंग स्कूल के निदेशक ने नाबालिगों के साथ की गंदी हरकत. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Ranchi: Nursing Girls Molested in Khunti खूंटी जिले के प्रखण्ड क्षेत्र के तिरला गांव स्थित होरा नर्सिंग स्कूल में निर्देशक द्वारा छात्राओं के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आया है. नर्सिंग स्कूल के निर्देशक परवेज आलम उर्फ ने सहनशक्ति जांच के बहाने छात्राओं के गुप्त अंगों को टच किया. इस संबंध में खूंटी महिला थाना में मामला दर्ज किया गया है. इसकी जानकारी मिलते ही खूंटी बीडीओ सबिता सिंह, डीपीएम कनकलता और महिला थाना प्रभारी दुलारमनी टुडू ने ट्रेनिंग सेंटर में छात्राओं व लोगों से संस्था के ट्रेनिंग सेंटर में जानकारी ली. जिसमें पता चला कि जब कैंपस में कोई व्यक्ति नहीं था. तभी क्लास में छात्राओं को सहनशक्ति जांच के बहाने गलत काम किया गया.

ये भी पढ़ें-Godda: शर्मनाक! दरिंदों ने बुझाई 'हवस' की आग, नाबालिग का किया Gangrape, 1 गिरफ्तार

इस घटना को उजागर करने वाली समाजसेवी महिला लक्ष्मी बाखला ने कहा कि इस प्रकार से नाबालिगों या बालिगों के साथ ऐसा कुकृत्य बहुत ही निंदनीय है. जो एक शिक्षा जगत को शर्मसार करती है.उन्होंने कहा की इस पर कठोर से कठोर कार्रवाई होनी चाहिए. ताकि सभी को सबक मिल सके. वहीं,उन्होंने यह भी कहा कि सभी बच्चियां टीन एजर हैं और काफी डरी हुई हैं. 

जानकारी के अनुसार, परवेज उर्फ बबलू भागा हुआ है. बता दें कि संस्थान के नर्सिंग स्कूल में कुल 60 छात्राएं पढ़ती हैं. जिसमें 58 खूंटी जिले की है और दो गुमला जिले के पालकोट की छात्राएं हैं. जिन छात्राओं के साथ ऐसा दुर्व्यवहार हुआ उन छात्राओं में ज्यादातर छात्राएं नाबालिग है.

ये भी पढ़ें-Jharkhand में खेली गई 'खून' की होली, 1 परिवार के 5 लोगों की टांगी से काटकर निर्मम हत्या