रांची: रिम्स के वार्ड में सुरक्षित नहीं है लालू यादव, लिया जा सकता है बड़ा फैसला

जेल अधीक्षक ने लालू यादव के वार्ड का जायजा लिया था और पहले फ्लॉर की खिड़की को असुरक्षित बताया था.

रांची: रिम्स के वार्ड में सुरक्षित नहीं है लालू यादव, लिया जा सकता है बड़ा फैसला
आरजेडी सुप्रीमो की सेहत के साथ-साथ अब डॉक्टरों को उनकी सुरक्षा की चिंता सताने लगी है.(फाइल फोटो)

सौरभ शुक्ला, रांची: चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव रिम्स के पेइंग वार्ड में असुरक्षित हैं. रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती लालू प्रसाद की सेहत के साथ-साथ अब उनकी सुरक्षा को लेकर भी रिम्स के डॉक्टर परेशान हैं. 

लालू का इलाज कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि उनकी जिम्मेदारी लालू प्रसाद को बेहतर से बेहतर उपचार उपलब्ध कराना है. वह कहां सुरक्षित है कहां सुरक्षित या देखना जेल प्रशासन का काम है.

वहीं, रिम्स चिकित्सा अधीक्षक डॉ.विवेक कश्यप की माने तो लालू प्रसाद यादव की सुरक्षा को लेकर जेल अधीक्षक के द्वारा रिम्स निदेशक को एक पत्र भेजा गया था. जिसे लालू का इलाज कर रहे मेडिकल बोर्ड के डॉक्टरों को दे दिया गया है. अब डॉक्टरों के विवेक पर निर्भर है कि लालू प्रसाद यादव को कहां रखना उचित है.

बहरहाल आरजेडी सुप्रीमो की सेहत के साथ-साथ अब डॉक्टरों को उनकी सुरक्षा की चिंता सताने लगी है. लिहाजा जेल प्रबंधन ने लालू यादव को शिफ्ट करने का फैसला ले लिया है, लेकिन डॉक्टरों के लिए अभी पशोपेश की स्थिति बनी हुई है.

आपको बता दें कि जेल अधीक्षक ने लालू यादव के वार्ड का जायजा लिया था और पहले फ्लॉर की खिड़की को असुरक्षित बताया था. पहला तल्ला कॉटेज से जुड़ा होने के कारण उनके वार्ड को असुरक्षित माना गया है. इस मामले में आने वाले दिनों में फैसला ले लिया गया है.