पटना के इन 18 निजी अस्पतालों में होगा कोविड मरीजों का इलाज, देखें LIST

राजधानी के सिविल सर्जन कार्यालय से निजी अस्पतालों की सूची जारी कर दी गई, जहां कोरोना वायरस का इलाज अब संभव होगा.  

पटना के इन 18 निजी अस्पतालों में होगा कोविड मरीजों का इलाज, देखें LIST
पटना के अब 18 निजी अस्पतालों में कोरोना का इलाज संभव होगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना: राजधानी पटना के अब 18 निजी अस्पतालों में कोरोना का इलाज संभव होगा. इसको लेकर सरकार ने आदेश जारी कर दिए हैं. इन अस्पतालों में अब कोविड मरीज निजी खर्च पर इलाज करा सकेंगे. वहीं, राजधानी के सिविल सर्जन कार्यालय से निजी अस्पतालों की सूची जारी कर दी गई, जहां कोरोना का इलाज अब संभव होगा.

जानकारी के अनुसार, हाईटेक इमरजेंसी, जी एस न्यूरोसाइंस, अरविंद हॉस्पिटल प्राइवेट लिमिटेड, मेडीकाना मगध हॉस्पिटल, डॉक्टर बिमल हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर, हर्ट हॉस्पिटल प्राइवेट लिमिटेड, श्री मुरलीधर मेमोरियल हॉस्पिटल, अनूप इंस्टीट्यूट ऑफ आर्थोपेडिक, ए एन नर्सिंग होम, पारस एचएमआरआई हॉस्पिटल शामिल हैं.

इसके अलावा, क्यूरिस हॉस्पिटल,पॉम व्यू हॉस्पिटल, महावीर वातसल्य हॉस्पिटल, मिडवर्सल हॉस्पिटल, रूबन मेमोरियल हॉस्पिटल (पाटलिपुत्र), तारा हॉस्पिटल, बुद्धा कैंसर सेंटर और नेस्तव हॉस्पिटल भी शामिल किया गया है. बताया जा रहा है कि, 18 अस्पतालों में 1 हजार 254 बेड उपलब्ध है.
 
इन अस्पतालों में आईसीयू की संख्या 343, वेंटिलेटर की संख्या 72 है. इन 18 अस्पतालों में कोविड मरीजों की बेड की संख्या 290 है. वहीं, पटना जिला के सिविल सर्जन डॉक्टर राजकिशोर चौधरी के मुताबिक, निजी अस्पतालों को भी अब इलाज कराने की अनुमति दी गई है और अब राजधानी के निजी अस्पतालों में कोरोना के मरीजों का इलाज होगा. साथ ही, अनुमंडल स्तर पर जो भी अस्पताल है वहां भी जांच तेजी से कराने के निर्देश दिए गए हैं.

दरअसल, बिहार में जिस तेजी से कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़ रही है और जिस प्रकार से सरकारी अस्पतालों की बदहाली सामने आई है, उसके बाद से ऐसा लग रहा था कि, निजी अस्पतालों को भी सरकार इलाज की अनुमति देगी.