पटना: पुलवामा हमले से आहत एलजेपी ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखा पत्र

केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी की सहयोगी एलजेपी ने पुलवामा आतंकवादी हमले से आहत होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद की जड़ों पर हमला करने की अपील की है.   

पटना: पुलवामा हमले से आहत एलजेपी ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखा पत्र
संसदीय बोर्ड के प्रमुख चिराग पासवान ने नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा.

पटना: केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी की सहयोगी एलजेपी ने पुलवामा आतंकवादी हमले से आहत होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद की जड़ों पर हमला करने की अपील की है. 

मोदी को लिखे पत्र में एलजेपी के संसदीय बोर्ड के प्रमुख चिराग पासवान ने अपील की कि आतंकवाद के खिलाफ अभियान, “इस बार तब तक नहीं रुकना चाहिए जब तक एक भी आतंकवादी जिंदा है.” 

पासवान के इस पत्र की प्रतियां रविवार देर रात मीडिया के साथ साझा की गईं. इसमें उन्होंने कहा है, ‘‘आपके कुशल नेतृत्व में देश ने पिछले पांच साल में हर क्षेत्र में विकास किया है. इससे पाकिस्तान परेशान हो गया है. पड़ोसी देश ने अब तक कई कायराना कृत्यों को अंजाम दिया लेकिन ताजा घटना ने राष्ट्र को खासकर युवा को आक्रोशित कर दिया है.” 

एलजेपी नेता ने पत्र में लिखा, “मैंने समाचारपत्रों में सीआरपीएफ के कई शहीद जवानों की तस्वीरें देखीं और शोकसंतप्त परिवारों का दर्द महसूस किया है. रांची में हमारी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की प्रस्तावित बैठक इस त्रासदी को देखते हुए शोक सभा में बदल गई और बाद में पार्टी का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया.” 

उन्होंने कहा कि कायरना हरकत ने एलजेपी कार्यकर्ताओं में बहुत गुस्सा पैदा कर दिया है जो आतंकवादी संगठनों एवं उनके आकाओं को लेकर आक्रोश में हैं. 

पासवान ने कहा, “मैं इस पत्र के जरिए आपको पार्टी के कार्यकर्ताओं एवं पूरे राष्ट्र की भावनाओं से अवगत करा रहा हूं कि पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद को उखाड़ फेंकने के लिए त्वरित कार्रवाई की जाए और इस बार यह अभियान तब तक न रोका जाए, जब तक एक भी आतंकवादी जिंदा है.” 

रविवार को बिहार के बरौनी में हुई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने भी इसी तरह की भावनाएं व्यक्त कीं और कहा कि उनकी पार्टी के कार्यकर्ता इस आतंकवादी हमले से बेहद दुखी हैं . साथ ही पासवान ने भरोसा भी जताया कि प्रधानमंत्री कड़ी कार्रवाई करेंगे.