close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बर्ड फ्लूः बिहार के कई जिलों में 60 कौवों की मौत, नष्ट किए गए 2600 मुर्गियां

 बिहार में बर्ड फ्लू के कारण मोर और मुर्गियों की मौत के बीच प्रदेश के विभिन्न भागों में 60 से अधिक कौए की मौत हो गयी है. 

बर्ड फ्लूः बिहार के कई जिलों में 60 कौवों की मौत, नष्ट किए गए 2600 मुर्गियां
बिहार में कई जिले बर्ड फ्लू की चपेट में आ गए हैं. (फाइल फोटो)

पटनाः बिहार में बर्ड फ्लू के कारण मोर और मुर्गियों की मौत के बीच प्रदेश के विभिन्न भागों में 60 से अधिक कौए की मौत हो गयी है. बिहार के मुंगेर जिला में बर्ड फ्लू को देखते हुए 2609 मुर्गियों को नष्ट किए जाने के साथ इस जिले में करीब 45 कौए की भी मौत हो गयी है.

मुंगेर जिला पशु पालन पदाधिकारी डॉ श्रवण कुमार भगत ने बताया कि 21 दिसंबर को जिले में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद से अब तक 2609 मुर्गियों को नष्ट किया जा चुका है. उन्होंने बताया कि मुंगेर जिला के विभिन्न भागों में अबतक करीब 45 कौए की मौत हो गयी है.

मुजफ्फरपुर जिले के सकरा प्रखण्ड के चंदनपट्टी गांव में 12 कौए मृत पाए गए. कौओं की मौत की जांच के लिए रविवार को चंदनपट्टी गाँव पहुंचे मुजफ्फरपुर जिला डॉक्टर मनोज कुमार ने बताया कि मृत कौए के सैंपल को जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा जाएगा.

पटना जिले के बिक्रम प्रखंड स्थित एक मुर्गी फार्म में लगभग 400 मुर्गियों के मृत पाये जाने के साथ जिले में करीब 10 कौओं की भी मौत हुई है.

पशु स्वास्थ्य एवं उत्पादन संस्थान की निदेशक अलका शरण ने दावा किया कि प्रदेश में कौए की मौत बर्ड फ्लू से नहीं बल्कि ठंड लगने के कारण हुई है. मुंगेर और पटना जिले से मृत कौओं का सैंपल जांच के लिए भोपाल स्थित राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान(एनआईएचएसएडी) भेजा गया है पर सैंपल के पोजिटिव होने की कोई रिपोर्ट अब तक नहीं मिली है.

उल्लेखनीय है कि प्रदेश की राजधानी पटना स्थित संजय गांधी जैविक उद्यान में बर्ड फ्लू के कारण मोर की मौत के बाद 25 दिसंबर से उसे बंद कर दिया गया है. संजय गांधी जैविक उद्यान में एच5एन1 वायरस के कारण छह मोर की मौत हो चुकी है.

(इनपुटः भाषा)