पटना मेट्रो को मिली केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी, पीएम मोदी 17 फरवरी को कर सकते हैं शिलान्यास

पटना मेट्रो को मिली केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी, पीएम मोदी 17 फरवरी को कर सकते हैं शिलान्यास

 केंद्रीय मंत्रिमंडल से स्वीकृति मिलने के बाद 13365.77 करोड़ रुपये की लागत से 31.39 किलोमीटर मेट्रो रेल का निर्माण किया जाएगा.

पटना मेट्रो को मिली केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी, पीएम मोदी 17 फरवरी को कर सकते हैं शिलान्यास

नई दिल्लीः पटना मेट्रो योजना को केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी मिल गई है. इस बात की जानकारी बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने देते हुए कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल से स्वीकृति मिलने के बाद 13365.77 करोड़ रुपये की लागत से 31.39 किलोमीटर मेट्रो रेल का निर्माण किया जाएगा.

सुशील मोदी ने कहा कि पटना मेट्रो का शिलान्यास 17 फवरी को बेगूसराय स्थित बरौनी फर्टिलाइजर के शिलान्यास समारोह के दौरान ही करने का पीएम मोदी से आग्रह किया गया है. उन्होंने कहा कि पटना मेट्रो की स्वीकृति पर खुशी व्यक्त करते हुए उन्होंने पीएम मोदी को धन्यवाद दिया है.

सुशील मोदी ने प्रधानमंत्री के साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति भी आभार जताया है और कहा है कि वे इसके लिए लम्बे समय से प्रयासरत थे. उन्होंने कहा कि पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट की स्वीकृति से अन्य बड़े शहरों की तरह पटनावासियों का भी मेट्रो का वर्षों पुराना सपना पूरा होगा.

आपको बता दें कि पहले चरण में मेट्रो का निर्माण पटना जंक्शन से लेकर बैरिया तक किया जाएगा. इस रूट पर चलने वाली मेट्रो अशोक राजपथ, गांधी मैदान, राजेंद्रनगर टर्मिनल होते हुए बैरिया तक जाएगी. बैरिया में जल्द ही अंतरराज्यीय बस स्टैंड भी बनने वाला है. ये पूरी लाइन 31 किलोमीटर लंबी होगी.

वहीं, दूसरे चरण में इसका निर्माण सगुना मोड़ से मीठापुर तक किया जाएगा. पहले चरण में जो मार्ग प्रस्तावित किया गया है उसमें कॉरिडोर को तीन हिस्सों में बांटा गया है. इसमें पहला कॉरिडोर पटना जंक्शन से बैरिया में प्रस्तावित अंतरराज्यीय बस अड्डा तक होगा. दूसरा कॉरिडोर मीठापुर बाइपास से दीदारगंज और तीसरा कॉरिडोर मीठापुर बाइपास से एम्स तक होगा.

Trending news