9 महीने के मासूम अयांश को है आपकी जरूरत, सही इलाज के लिए करें मदद

Bihar Samachar: अयांश महज अभी 9 महीने का ही है. लेकिन इस बच्चे को करोड़ों लोगों में से किसी एक को होनेवाली दुर्लभ मस्क्युलर अट्रोफी नामक बीमारी है, जो घातक होने के साथ-साथ जानलेवा है.   

9 महीने के मासूम अयांश को है आपकी जरूरत, सही इलाज के लिए करें मदद
9 महीने के मासूम अयांश को है आपकी जरूरत

Patna: पटना में 9 महीने के मासूम अयांश को अपनी जान बचाने के लिए लोगों की मदद की जरूरत है. दरअसल, अयांश को दुर्लभ मस्क्युलर अट्रोफी नामक बीमारी है, जो जानलेवा है और इसके इलाज के लिए जिस इंजेक्शन की जरूरत है उसकी कीमत 16 करोड़ रुपए है. अब ऐसे में अयांश के पिता आलोक कुमार सिंह बेहद परेशान हैं ओर आम लोगों के साथ सरकार से भी मदद की अपील कर रहे हैं. वहीं, पटना के कुछ युवा क्राउड फंडिंग के जरिए भी अयांश की मदद के लिए आगे आए हैं. 

अयांश की मासूम मुस्कान के पीछे हजारों दर्द
बता दें कि अयांश महज अभी 9 महीने का ही है. लेकिन इस बच्चे की मनमोहक मुस्कान के पीछे काफी दर्द छुपा है. दरअसल, इस बच्चे को करोड़ों लोगों में से किसी एक को होनेवाली दुर्लभ मस्क्युलर अट्रोफी नामक बीमारी है, जो घातक होने के साथ-साथ जानलेवा है. इसके चलते अगर अयांश को सही वक्त पर सही इलाज नहीं मिला तो महज दो साल में इस बच्चे की ये खिलखिलाहट हमेशा के लिए शांत हो जाएगी.

16 करोड़ रुपए ही बचा सकते हैं अयांश की जान
ऐसा नहीं है कि इस बीमारी का इलाज नहीं है, लेकिन जिस इंजेक्शन से अयांश की जान बच सकती है, उस इंजेक्शन की कीमत 1-2 या 10 नहीं बल्कि 16 करोड़ रुपए है. लिहाजा अपने बच्चे की जिंदगी को लेकर मां बाप को कुछ समझ नहीं आ रहा है. 

मां-बाप ने नहीं हारी है हिम्मत
वहीं, अयांश की मां अपने बच्चे की जिंदगी को लेकर बेहद परेशान हैं. लेकिन इतनी घातक और जानलेवा बीमारी के बावजूद मां को इस बात का सौ फीसदी यकीन है कि उसके बच्चे की जान बच जाएगी और इसका कारण है लोगों की मदद से दो अन्य बच्चों की जान बचाने का हौसला. दरअसल, कुछ दिन पहले गुजरात की मासूम इशानी और हैदराबद का 3 साल का बच्चा अयांश भी इसी जानलेवा बीमारी से ग्रसित थे. लेकिन लोगों की क्राउड फंडिंग और वहां की सरकार की मदद ने इन दोनों बच्चों की जान बचा ली. लिहाजा अयांश के पिता आलोक कुमार सिंह और मां सोनी सिंह को इसी बात से हिम्मत मिली है कि लोगों की मदद से उनके बच्चे की भी जान बच जाएगी.

आपकी मदद ही अब अयांश की जिंदगी
क्योंकि दो महीने के अंदर बच्चे को ये इंजेक्शन लगना जरूरी है, लिहाजा आलोक कुमार सिंह लोगों से मदद की अपील कर रहे  हैं. जहां आप क्राउड फंडिंग के जरिए इस बच्चे को जिंदगी दे सकते हैं, इसके लिए अयांश के पिता अपना एकाउंट नंबर भी दे रहे हैं. साथ ही गूगल और Paytm नंबर भी दे रहे हैं ताकि फंड़ इकट्ठा किया जा सके.

बैंक का नाम- सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank Of India)
खाता धारक का नाम- अयांश सिंह (Aayansh Singh)
खाता संख्या-  5121176175
आईएफएससी कोड- CBIN0282384
Google Pay/Paytm No. 9431089721

पटना के युवा क्राउड फंडिंग की चला रहे मुहिम
इधर, अयांश को बचाने की मुहिम में पटना के कई युवा भी जुड़ चुके हैं और उसके इलाज के लिए पैसे इकट्ठा कर रहे हैं ताकि अयांश को बचाया जा सके. इसके लिए युवाओं की ये टीम सोशल मीडिया से लेकर डोर टू डोर मुहिम चला रही है, ताकि जल्द से जल्द पैसा इकट्ठा किया जा सके और अयांश को नई जिंदगी दी जा सके.