close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहारः उड़ीसा से आए अपराधी कैमूर में दे रहे थे लूट की घटना को अंजाम, तीन गिरफ्तार

बिहार के कैमूर जिले में उड़ीसा के अपराधी पिछले कई दिनों से पैसे की छिनैती, और ज्वैलरी लूट की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे.

बिहारः उड़ीसा से आए अपराधी कैमूर में दे रहे थे लूट की घटना को अंजाम, तीन गिरफ्तार
कैमूर में पुलिस ने उड़ीसा के तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया है.

कैमूरः बिहार के कैमूर जिले में उड़ीसा के अपराधी पिछले कई दिनों से पैसे की छिनैती, और ज्वैलरी लूट की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे. जिसके बाद पुलिस ने जांच कर कार्रवाई करते हुए तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से ज्वेलरी और नकद रुपयों की बरामदगी हुई है.

बताया जा रहा है कि काफी समय इलाके में छिनतई की घटना हो रही थी. इसी क्रम में 14 मार्च को भगवानपुर थाना क्षेत्र के एक स्वर्ण ब्यवसाय की नौ लाख रुपये के जेवरात से भरा बैग को कुछ अपराध कर्मियों द्वारा दुकानदार के दुकान के साफ करने के दौरान उड़ा लिया गया था. 

कुछ दिन बाद बाइक नंबर के आधार पर दुकानदार ने भभुआ शहर में अपराधियों को देखने के बाद पीछा किया, लेकिन वह चकमा देकर फरार हो गए थे. गहने से भरा बैग उड़ाने का मामला सीसीटीवी में कैद हो गया था. जहां बाइक का नंबर आने के बाद पुलिस अपनी छानबीन में जुट गई. जिसमें पुलिस ने एक महिला सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया. जहां पूछताछ में तीनों ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया.

दुकानदार अक्षय सेठ ने बताया सुबह में 14 मार्च को दुकान खोलकर सफाई कर रहे थे तभी कुछ लोग मेरा गहनों से भरा बैग लेकर भाग गए थे. जब मैंने सीसीटीवी में बगल दुकान में देखा, बैग लेकर भागते हुए बाइक से कुछ लोग का चेहरा आया था. जहां मैंने थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दिया था.

वहीं कैमूर एसपी ने बताया प्राथमिकी दर्ज होते ही पुलिस अनुसंधान में जुट गई. सीसीटीवी में मिले  बाइक नंबर के आधार पर पुलिस ने पड़ताल किया तो पता चला कि यह लोग उड़ीसा के  पूरबाकोटे गांव के रहने वाले हैं. यह पूरा गांव अलग अलग शहरों में जाकर व्यवसाय करने के नाम पर भाड़े पर रहता है, और लूट छिनैती जैसी घटनाओं को अंजाम देता है. 

इस घटना में शामिल एक महिला सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया. जिसमें दो लोग पति पत्नी हैं. इनके पास से ज्वेलरी बेचने के बाद मिले 64 हजार रुपया नगद, दो मोबाइल, एक एटीएम, दो आधार कार्ड, और कुछ फोटोग्राफ्स मिले हैं. फिलहाल तीनो को जेल भेजा जा रहा है. पुलिस आगे भी रिमांड पर लेकर और अपराधों को खंगालेगी.