नवादा: जेल में बंद कैदी का सेल्फी वायरल होने के बाद छापेमारी

बिहार के सभी जेलों में अभियान चलाकर छापेमारी की गई. इसी कड़ी में बिहारशरीफ मंडलकारा में भी डीएम योगेंद्र सिंह, एसपी नीलेश कुमार और एएसपी अभियान सत्यप्रकाश मिश्र के नेतृत्व में छापेमारी कर सभी वार्डो की सघन तलाशी ली गई. 

नवादा: जेल में बंद कैदी का सेल्फी वायरल होने के बाद छापेमारी
बिहारशरीफ मंडलकारा में भी डीएम योगेंद्र सिंह, एसपी नीलेश कुमार और एएसपी ने सभी वार्डों की तलाशी ली. (फाइल फोटो)

नवादा : बिहार के नवादा जेल में बंद कैदी के सेल्फी का फोटो वायरल होने के बाद बिहार के सभी जेलों में अभियान चलाकर छापेमारी की गई. इसी कड़ी में बिहारशरीफ मंडलकारा में भी डीएम योगेंद्र सिंह, एसपी नीलेश कुमार और एएसपी अभियान सत्यप्रकाश मिश्र के नेतृत्व में छापेमारी कर सभी वार्डो की सघन तलाशी ली गई. 

तलाशी के दौरान खैनी तम्बाकू और खाने पीने के सामान के अलावे कुछ भी बरामद नहीं हुआ. इस दौरान डीएम और एसपी ने वॉच टॉवर सहित अन्य जगहों की भी तलाशी ली. दरअसल आज आज यानी गुरुवार को पूरे बिहार में सरकार के निर्देश पर जेलों में छापेमारी अभियान चलाया गया. इसके तहत समस्तीपुर के मंडल कारा सहित दलसिंहसराय और रोसड़ा उपकारा में भी छापेमारी की गई है.

 

लगभग डेढ़ घंटे तक चली इस छापेमारी में कोई भी आपत्तिजनक सामान बरामद नहीं किया गया है. मंडल कारा में जहां डीएम चंद्रशेखर सिंह के नेतृत्व में कई थाने की पुलिस ने छापामारी की. वहीं, रोसड़ा और दलसिंह सराय उपकारा में एसडीओ और डीएसपी के नेतृत्व में छापामारी की गई.

छापामारी में कारा के विभिन्न वार्डों की जांच की गई. जांच के बाद जिलाधिकारी पंकज दीक्षित ने बताया कि यह एक रूटीन जांच थी. कोई भी आपत्तिजनक सामान नहीं मिला.  बताते चलें कि मंडल कारा सासाराम में 50 से अधिक नक्सली बंद हैं. इसके अलावा आए दिन सूचना मिलती रहती है कि कई कुख्यात अपराधी जेल में मोबाइल का भी उपयोग करते हैं. इन तमाम सूचना के बाद आज प्रशासन द्वारा जब छापेमारी की गई तो प्रशासन के हाथ खाली खाली रहे.