close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मीडिया डिबेट में नहीं शामिल होने का फैसला कांग्रेस का वैचारिक दिवालियापन : राकेश सिन्हा

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद पार्टी में मंथन जारी है. जहां एक तरफ पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी अपने इस्तीफे को लेकर अड़े हैं वहीं कई राज्यों की कांग्रेस इकाईयों में भी बड़े बदलाव के संकेत मिल रहे हैं.

मीडिया डिबेट में नहीं शामिल होने का फैसला कांग्रेस का वैचारिक दिवालियापन : राकेश सिन्हा
राकेश सिन्हा का कांग्रेस पार्टी पर हमला. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली/पटना : भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राज्यसभा सांसद और आरएसएस विचारक राकेश सिन्हा ने कांग्रेस पर निशाना साधा है. राकेश सिन्हा ने कहा कि कांग्रेस की तरफ से पत्र जारी कर यह कहना कि कोई भी प्रवक्ता मीडिया डिबेट में शामिल नहीं होगा, यह वैचारिक दिवालियापन को दर्शाता है. साथ ही उन्होंने कहा कि सुरजेवाला के इस पत्र से यह भी प्रतीत होता है कि कांग्रेस में न तो अब कोई नेतृत्व है न कोई नीति बची है.

ज्ञात हो कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद पार्टी में मंथन जारी है. जहां एक तरफ पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी अपने इस्तीफे को लेकर अड़े हैं वहीं कई राज्यों की कांग्रेस इकाईयों में भी बड़े बदलाव के संकेत मिल रहे हैं.

गुरुवार को कांग्रेस के हवाले से एक और खबर मिली है. ऐसा बताया जा रहा है कि कांग्रेस ने अब अपने प्रवक्ताओं को न्यूज डिबेट में नहीं भेजने का फैसला किया है. खबर है कि कांग्रेस पार्टी ने फैसला किया है कि अगले एक महीने तक कांग्रेस का कोई भी प्रवक्ता किसी भी चैनल के टीवी डिबेट में हिस्सा न लें. 

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने बुधवार रात को ट्वीट कर यह जानकारी दी है. सुरजेवाल ने अपने ट्वीट में लिखा, 'भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने एक महीने तक अपने प्रवक्ताओं को न भेजने का निर्णय लिया है.सभी मीडिया चैनलों/संपादकों से यह अनुरोध है कि वह अपने शो में कांग्रेस के प्रतिनिधियों को न बुला