RJD में रारः तेजप्रताप बोले- पाटलिपुत्र से भाई वीरेंद्र नहीं मीसा भारती लड़ेंगी चुनाव

आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव ने ऐलान करते हुए कहा है कि पाटलिपुत्र सीट से मीसा भारती ही चुनाव लड़ेगी. 

RJD में रारः तेजप्रताप बोले- पाटलिपुत्र से भाई वीरेंद्र नहीं मीसा भारती लड़ेंगी चुनाव
पाटलिपुत्र लोकसभा सीट पर आरजेडी में दो लोगों की दावेदारी. (फाइल फोटो)

रूपेंद्र श्रीवास्तव, पटनाः बिहार में लोकसभा चुनाव के लिए सीटों पर दावेदारी की सियासत शुरू हो गई है. जहां एक ओर महागठबंधन में सीट शेयरिंग पर फैसला नहीं हुआ है. वहीं, अब सीटों पर दावेदारी को लेकर आरजेडी में ही रार शुरू हो गई है. राजधानी पटना के निकट पाटलिपुत्र लोकसभा सीट पर आरजेडी के अंदर ही घमासान छिड़ गया है. 

आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव की बेटी मीसा भारती 2014 के लोकसभा चुनाव में पाटलिपुत्र सीट से मैदान में उतरी थी. लेकिन वह हार गई थी. इस बार फिर से 2019 के चुनाव में मीसा भारती इस सीट से ही चुनाव लड़ने का मन बना रही है. इसके लिए तैयारियां भी दिखने लगी है. वहीं, आरजेडी के नेता भाई वीरेंद्र भी इस सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने का दावा कर रहे हैं. ऐसे में पाटलिपुत्र सीट के लिए आरजेडी के अंदर घमासान छिड़ गया है.

वहीं, आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव ने अपनी बहन मीसा भारती का पक्ष लेते हुए कहा है कि पाटलिपुत्र सीट से मीसा भारती ही चुनाव लड़ेगी. उन्होंने कहा कि भाई वीरेंद्र ने क्या कहा उन्हें नहीं पता है लेकिन मीसा भारती का पाटलिपुत्र से चुनाव लड़ तय हैं. आरजेडी से मीसा भारती ही चुनाव लड़ेगी.

भाई वीरेंद्र ने मीसा भारती के दावेदारी को लेकर कहा है कि, वह पहले ही राज्यसभा की सदस्य हैं और उनका कार्यकाल अभी करीब तीन साल बाकी है. ऐसे में वह लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगी.

लेकिन तेजप्रताप यादव ने दावा किया है कि पाटलिपुत्र सीट से आगामी लोकसभा का चुनाव मीसा भारती ही लड़ेंगी. उन्होंने कहा कि वह महिलाओं को आगे बढ़ाना चाहते हैं. मैं उनके लिए खुद प्रचार करूंगा. इसलिए वहां से मीसा भारती ही चुनाव लड़ेंगी.

आपको बता दें कि मीसा भारती ने पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र में अपने पोस्टर लगवाएं है. उन्होंने अपने समर्थकों और जनताओं को नववर्ष की शुभकामना देते हुए पोस्टर पूरे क्षेत्र में लगवाया है. जिसके बाद माना जा रहा है कि वह फिर से पाटलिपुत्र लोकसभा सीट से ही चुनाव लड़ेंगी.

गौरतलब है कि मीसा भारती 2014 के चुनाव में पाटलिपुत्र से मैदान में उतरी थी. वहीं, इस सीट पर बीजेपी से रामकृपाल यादव उनके खिलाफ चुनाव लड़ा था. जिसमें मीसा भारती हार गई थी. अब इस बार उन्होंने फिर से इसी सीट पर चुनाव लड़ने का मन बना लिया है.