close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आरजेडी कार्यकर्ताओं का हंगामा, तेजस्वी यादव पर लगाए पैसा लेकर टिकट देने का आरोप

जहानाबाद से सुरेन्द्र यादव को टिकट दिये जाने से नाराज सैकडों कार्यकर्ता ने तेजस्वी यादव पर पैसे लेकर टिकट देने का आरोप भी लगाया है.

आरजेडी कार्यकर्ताओं का हंगामा, तेजस्वी यादव पर लगाए पैसा लेकर टिकट देने का आरोप
आरजेडी कार्यकर्ताओं ने तेजस्वी यादव पर टिकट के लिए पैसा लेने का आरोप लगाया.

पटनाः कल तक तेजस्वी यादव जिंदाबाद का नारा लगाने वाले आरजेडी के कार्यकर्ता आज तेजस्वी यादव पर सामंति होने का आरोप लगा रहे हैं. जहानाबाद से सुरेन्द्र यादव को टिकट दिये जाने से नाराज सैकडों कार्यकर्ता तेजप्रताप यादव से इंसाफ की गुहार लगाने पटना पहुंचे. कार्यकर्ताओं ने तेजस्वी यादव पर पैसे लेकर टिकट देने का आरोप भी लगाया है.

जहानाबाद की सीट आरजेडी के लिए मुसीबत बनती जा रही है. सुरेन्द्र यादव को टिकट दिये जाने के विरोध के बावजूद उन्हें उम्मीदवार घोषित किए जाने से नाराज आरजेडी कार्यकर्ताओं का आक्रोश शनिवार को फूट पड़ा. जहानाबाद के सैंकडों कार्यकर्ता अपनी फरियाद लेकर तेजप्रताप यादव के पास पहुंचे. कार्यकर्ताओं का दावा था कि तेजप्रताप यादव ने उन्हें मिलने के लिए बुलाया है. और इस मसले पर फैसला लेंगे.

दरअसल सीटों की घोषणा से पहले जहानाबाद के आरजेडी कार्यकर्ताओं ने स्थानीय उम्मीदवार की मांग को लेकर राबड़ी आवास का घेराव किया था. तेजस्वी यादव से मिलने की जिद्द को लेकर कार्यकर्ता 9 घंटों तक राबड़ी आवास पर डेरा डाले रहे, लेकिन तेजस्वी यादव ने उनसे मुलाकात तक नहीं की.

स्थानीय आरजेडी नेता मनोज यादव ने बताया कि तेजस्वी कहते हैं कि मोदी समांति हैं, लेकिन हकीकत यह है कि समांति मोदी नहीं बल्कि तेजस्वी हैं. हमलोग आरजेडी का झंडा ढोते हैं और उम्मीदवार देने के नाम पर हमसे सलाह तक नहीं ली जाती. जो उम्मीदवार लगातार तीन बार चुनाव हार चुका है उसे फिर से टिकट दे दिया गया है. जहानाबाद के टिकट में पैसों का लेनदेन हुआ है. तेजस्वी यादव के आवास पर हम दिनभर बैठे रहे लेकिन तेजस्वी यादव ने एक बार भी हमसे मिलना मुनासिब नहीं समझा.

वहीं, जहानाबाद के दूसरे स्थानीय आरजेडी नेता संभू यादव ने कहा कि सुरेन्द्र यादव अपराधी चरित्र का आदमी है, हम उसका विरोध करेंगे. हमें तेजप्रताप यादव ने भरोसा दिलाया था कि सुरेन्द्र यादव को टिकट नहीं दिया जाएगा, लेकिन उसके बावजूद उसे टिकट दे दिया गया. अगर आरजेडी फैसला नहीं बदलेगी तो पार्टी को नुकसान उठाना पडेगा. तेजप्रताप यादव ने हमें मिलने बुलाया है. हम तेजप्रताप यादव के मिलकर आगे का फैसला लेंगे.

इधर आरजेडी कार्यकर्ताओं के हंगामे के दौरान तेजप्रताप यादव घर पर मौजूद नहीं थे. कार्यकर्ताओं को तेजप्रताप यादव के लौटने के बाद मिलने का आश्वासन दिया गया. लेकिन जबतक कार्यकर्ता तेजप्रताप यादव के घर मौजूद रहे तेजप्रताप वापस अपने आवास नहीं लौटे.