करनाल में डिप्टी सीएम के नहीं मिलने से भड़के MBBS छात्र, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी
topStories0hindi1462943

करनाल में डिप्टी सीएम के नहीं मिलने से भड़के MBBS छात्र, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

Bond Policy: बॉन्ड पॉलिसी के विरोध कर रहे MBBS छात्र आज डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला से मिलने पहुंचे थे, लेकिन पुलिस द्वारा उन्हें रोक दिया गया. जिसके बाद छात्रों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. 

करनाल में डिप्टी सीएम के नहीं मिलने से भड़के MBBS छात्र, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

नई दिल्ली: हरियाणा के रोहतक PGI में बॉन्ड पॉलिसी के विरोध में MBBS छात्रों का प्रदर्शन लगातार जारी है. इस मामले में आज छात्र डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला से मिलने करनाल पहुंचे थे, जहां पुलिस ने उन्हें रोक दिया. वहीं दूसरी तरफ आज परीक्षा के लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख है और प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने अब तक फॉर्म नहीं भरा है.ऐसे में एक बार फिर से परीक्षा का डेट आगे बढ़ाई जा सकती है. 

करनाल में डिप्टी सीएम से मिलने से रोका
करनाल में प्रदर्शन कर रहे छात्र डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला से मुलाकात करने पहुंचे थे, लेकिन पुलिस ने छात्रों को सभा स्थल से पहले ही रोक दिया.छात्रों का आरोप है कि पुलिस ने उन्हें सभा के बाद उन्हें डिप्टी सीएम से मिलाने की बात कही गई थी, लेकिन उन्हें डिप्टी सीएम के जाने के बाद सभा स्थल पर लाया गया. गुस्साए छात्रों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. 

ये भी पढ़ें- Bond Policy का विरोध, आज प्रदेशभर के प्राइवेट अस्पतालों में 12 घंटे के लिए बंद रहेंगे OPD

 

MBBS छात्र एग्जाम देने के लिए तैयार नहीं
1 महीने से प्रदर्शन कर रहे MBBS छात्र परीक्षा देने के लिए तैयार नहीं हैं. छात्रों के प्रदर्शन की वजह से 2 बार परीक्षा की डेट बढ़ाई जा चुकी है, आज आवेदन करने की अंतिम डेट है, लेकिन अब तक छात्रों ने आवेदन नहीं किया है. ऐसे में अब तीसरी बार भी आवेदन की डेट बढ़ाई जा सकती है. 

बॉन्ड पॉलिसी के विरोध में प्रदेश के 4 मेडिकल कॉलेजों के करीब 1200 से अधिक छात्र पिछले 29 दिन से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. इस दौरान उनकी आला अधिकारियों से लेकर सरकार से भी कई दौर से बातचीत हुई है, लेकिन बात नहीं बनी. बुधवार को एक बार फिर MBBS छात्रों का प्रतिनिधिमंडल CM मनोहर लाल से चंडीगढ़ में मुलाकात करेगा. 

ये भी पढ़ें- बॉन्ड पॉलिसी के मुद्दे पर सामने आई CM मनोहर लाल की प्रतिक्रिया, आज निकल सकता है हल

 

मुलाकात सफल रहे इसके लिए राजकीय शहीद हसन खान मेवाती मेडिकल कॉलेज के छात्रों ने नल्हडेश्वर शिव मंदिर में पूजा अर्चना करने का फैसला लिया है. छात्रों का कहना है कि सरकार को उनकी मांगों को जल्द से जल्द मान लेना चाहिए, जिससे किसी को भी कोई परेशानी नहीं हो. 

छात्रों के समर्थन में डॉक्टर्स के संगठन उनके हड़ताल में शामिल होने का ऐलान कर चुके हैं. छात्रों का दावा है कि कई छात्र संगठन, भारतीय किसान यूनियन सहित कई संगठन उनकी हड़ताल में सहयोग करने के लिए तैयार हैं. कभी भी वह छात्रों की हड़ताल का समर्थन करने का ऐलान कर सकते हैं. प्रदर्शन कर रहे छात्रों को सभी जगह से समर्थन मिल रहा है.

 

 

Trending news