close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पठानकोट रेलवे स्टेशन पर पड़ी ISI की ना'पाक' नजर, उड़ाने की है प्लानिंग: सूत्र

 पाठनकोट कैंट रेलवे स्टेशन और पाठनकोट रेलवे स्टेशन पर लावारिस चीजों पर ध्यान रखने को कहा गया है. पाकिस्तान एजेंसी ISI ने पाठनकोट कैंट रेलवे स्टेशन और पाठनकोट रेलवे स्टेशन को उड़ाने की धमकी दी है.

पठानकोट रेलवे स्टेशन पर पड़ी ISI की ना'पाक' नजर, उड़ाने की है प्लानिंग: सूत्र
पठानकोट एयरफोर्स स्टेशन को आतंकी निशाना बना चुके हैं.

पठानकोट: जम्मू पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI के हवाले से फिरोजपुर डिवीजन के अधीन आने वाले पठानकोट सिटी और कैंट रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है. इस धमकी को गंभीरता से लेते हुए फिरोजपुर रेल डिवीजन के सभी रेलवे स्टेशनों में सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त कर दिए गए हैं. GRP पाठनकोट ने अपने अधिकारियों को दिये अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया है. पाठनकोट कैंट रेलवे स्टेशन और पाठनकोट रेलवे स्टेशन पर लावारिस चीजों पर ध्यान रखने को कहा गया है. पाकिस्तान एजेंसी ISI ने पाठनकोट कैंट रेलवे स्टेशन और पाठनकोट रेलवे स्टेशन को उड़ाने की धमकी दी है.

जम्मू रेलवे स्टेशन पर भी इस धमकी को गंभीरता से लेते हुए रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (आरपीएफ) के जवानों ने स्टेशन परिसर और उसके बाहरी इलाके में तलाशी अभियान चलाया. इसके अलावा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म में बैठे यात्रियों की गहनता से जांच करने के अलावा जम्मू से रवाना होने वाली विभिन्न रेलगाड़ियों को जांच के बाद रवाना किया गया. आरपीएफ पठानकोट की ओर से पत्र लिखकर रेलवे के विभिन्न विभागों के अधिकारियों को ISI की धमकी के मद्देनजर सतर्क रहने को कहा गया है. 

पत्र में कहा गया है कि फिरोजपुर डिवीजन के वरिष्ठ अधिकारियों को एक पत्र मिला है, जिसमें कहा गया है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आइएसआइ पठानकोट शहर और पठानकोट चक्की बैंक रेलवे स्टेशन को उड़ाने वाली है.

जीआरपी की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि रेलवे स्टशनों की पार्किंग एरिया की खास निगरारी की जाए. पार्किंग में खड़ी जो भी गाड़ी संदिग्ध लगे तत्काल उसकी जांच की जाए. इसके अलावा आदेश है कि रेलवे स्टेशन पर अनाउंसमेंट करके यात्रियों को सर्तक रहने को कहा जाए.

जिस भी रेलयात्री को कोई सामाना या कोई घटना संदिग्ध लगे तो वे तत्काल 182 नंबर पर कॉल करके इसकी सूचना दें. एहतियातन मुख्य ट्रेनों के रेलवे स्टेशन से खुलने से पहले उसकी सघन जांज की जा रही है. इस काम में ट्रेंड कुत्तों की मदद ली जा रही है.