माफिया Mukhtar Ansari की 'सल्तनत' पर योगी का एक्शन, गिराई गई अवैध बिल्डिंग

लखनऊ विकास प्राधिकरण (LDA) की संयुक्त सचिव ऋतु सुहास के नेतृत्व में जोन 6 में बने प्लाजा पर कार्रवाई की गई है. ये इमारत माफिया मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के करीबी की बताई जा रही है. 

माफिया Mukhtar Ansari की 'सल्तनत' पर योगी का एक्शन, गिराई गई अवैध बिल्डिंग
फाइल फोटो.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) मफियाओं की कमर तोड़ने के लिए लगातार कार्रवाई कर रही है. इसी कड़ी में आज (शनिवार) मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी शाहिद के राजधानी स्थित अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया गया.

1 महीना पहले दिया था नोटिस 
लखनऊ विकास प्राधिकरण (LDA) की टीम ने हजरतगंज में साहू सिनेमा के बगल में रानी सल्तनत प्लाजा की चौथी मंजिल को गिरा दिया. प्लाजा की चौथी मंजिल पर बनी सभी 10 अवैध दुकानों को तोड़ा गया. कार्रवाई के दौरान भारी पुलिस बल मौजूद रहा. मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के करीबी बताए जा रहे इस अवैध प्लाजा को गिराने को लेकर एक महीना पहले ही लखनऊ विकास प्राधिकरण ने नोटिस दिया था. लखनऊ के डीएम व एलडीए वीसी अभिषेक प्रकाश ने बताया कि मुख्तार अंसारी का डायरेक्ट कोई कनेक्शन नहीं है लेकिन बिल्डिंग उसके करीबियों की है. फिलहाल हम अवैध निर्माण के तहत कार्रवाई कर रहे हैं.

रानी सल्तनत की प्रॉपर्टी
लखनऊ विकास प्राधिकरण की संयुक्त सचिव ऋतु सुहास के नेतृत्व में जोन 6 में बने प्लाजा पर कार्रवाई की गई है. सुबह से शुरू हुई कार्रवाई 5 घंटे बाद भी जारी है. अवैध रूप से बनाए गए तीन मंजिला प्लाजा मैं शीशे और संगमरमर के पत्थरों से दुकानें बनाई गई थीं. हजरतगंज गांधी आश्रम के बगल में बनाया प्लाजा रानी सल्तनत का है. प्राधिकरण के जोन 6 हजरतगंज गांधी आश्रम के बगल में अवैध निर्माण ध्वस्त हुआ है. संयुक्त सचिव ऋतु सुहास , अधिशाषी अभियंता कमलजीत, अवर अभियंता भरत पांडेय, अवर अभियंता नित्यानन्द चौबे और सहायक अभियंता एन एस शाक्य टीम के साथ कॉम्पलेक्स गिराने में जुटे हैं.

नक्शे के विरुद्ध निर्माण
रानी सल्तनत बेगम और अन्य के खिलाफ एलडीए ने 2005 में कारण बताओ नोटिस भेजा था. जिसमें रानी सल्तनत बेगम द्वारा स्थल पर स्वीकृत मानचित्र के विरुद्ध साइट सेट बैक व रियर सेट बैक कवर करके अनाधिकृत रूप से निर्माण कराया गया और निर्माण कार्य को बंद नहीं किया गया. जारी पत्र में एलडीए ने यह भी बताया कि, रानी सल्तनत बेगम व अन्य से पूछा गया कि,आखिर अवैध निर्माण को क्यों ना गिराया जाए? लेकिन रानी सल्तनत बेगम व अन्य लोग उपस्थित नहीं हुए ना ही उनके द्वारा कोई जवाब या साक्ष्य प्रस्तुत किया गया जबकि विपक्षियों को जवाब व साक्ष्य प्रस्तुत करने के लिए, लखनऊ विकास प्राधिकरण ने अवसर भी दिया था.

यह भी पढ़ें: मिथुन, गांगुली की अटकलों के बीच ममता के बेहद करीबी रहे Dinesh Trivedi BJP में शामिल

कार्रवाई रहेगी जारी
जिलाधिकारी (DM) एवं लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष अभिषेक प्रकाश के निर्देश पर प्लाजा की चौथी मंजिल पर बनाई गई सभी 10 अवैध दुकानें तोड़ दी गईं. यह पूरी इमारत करीब पांच वर्ग फीट में बनाई गई है. अभियंताओं ने बताया, चौथी मंजिल मानचित्र के विपरीत बनाई गई थी. पहले भी नोटिस दिया जा चुका है, लेकिन न तो कॉम्पलेक्स स्वामी ने समान नीति के तहत पालन किया और न ही अवैध निर्माण को खुद तोड़ा. इसलिए लखनऊ विकास प्राधिकरण ने कार्रवाई की है. डीएम ने बताया कि पहले दुकानें तोड़ी जाएंगी फिर साइड की दीवारें गिराई जाएंगी. अंत में छत का नंबर आएगा.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.