close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोर्ट ने बढ़ाई अमित जोगी की न्यायिक रिमांड, अब 30 सितंबर तक रहेंगे जेल में

अमित जोगी ने कहा कि मेरे खिलाफ प्रत्याशी रहीं समीरा पैकरा ने मामले में एफआईआर दर्ज कराई है, जो विधि सम्मत नहीं है.

कोर्ट ने बढ़ाई अमित जोगी की न्यायिक रिमांड, अब 30 सितंबर तक रहेंगे जेल में
कोर्ट ने अमित जोगी को जेल मैन्युअल (Jail Manual) के हिसाब से स्वास्थ्य सुविधाएं (Health Service) देने के भी निर्देश जारी किए.

दुर्गेश सिंह बिसेन/बिलासपुर: पूर्व सीएम अजीत जोगी (Ajit Jogi) के बेटे छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी (Amit Jogi) की मंगलवार को न्यायिक रिमांड (Judicial Remand) बढ़ा दी गई. अदालत ने अमित जोगी की न्यायिक रिमांड को 30 सितंबर तक के लिए बढ़ा दिया है. इस दौरान वह पेंड्रा जेल (Pendra Jail) में रहेंगे. गौरतलब है कि अमित जोगी मंगलवार को ही अस्पताल से डिस्चार्ज हुए थे. इसके बाद उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच रायपुर (Raipur) से पेंड्रा (Pendra) लाया गया था.

वहीं, अदालत ने मामले की सुनवाई के बाद अमित जोगी की न्यायिक हिरासत की अवधि बढ़ा दी. साथ ही अमित जोगी को जेल मैन्युअल (Jail Manual) के हिसाब से स्वास्थ्य सुविधाएं (Health Service) देने के भी निर्देश जारी किए. अमित जोगी को व्यवहार न्यायालय पेंड्रा में पेश किया गया था. इस दौरान अमित जोगी ने जज के सामने अपने मामले की पैरवी खुद की. मामले पर अमित जोगी ने तर्क देते हुए कहा कि मेरे विरुद्ध जो मामला लाया गया है, वह सीआरपीसी की धारा 195/340 की प्रकृति का है. ऐसे मामले में केवल पीठासीन अधिकारी ही सीधे एफआईआर करा सकते हैं.

उन्होंने कहा कि मेरे खिलाफ प्रत्याशी रहीं समीरा पैकरा ने मामले में एफआईआर दर्ज कराई है, जो विधि सम्मत नहीं है. बता दें कि अमित जोगी के खिलाफ समीरा पैकरा ने गौरी का थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी, जिसके बाद अमित जोगी को बिलासपुर स्थित आवास से गिरफ्तार कर लिया गया था.

 

दरअसल, अमित जोगी हलफनामे में जन्म स्थान (Birth Place) की गलत जानकारी देने के मामले में फंसे हैं. अमित जोगी अस्पताल (Hospital) से डिस्चार्ज (Discharge) कर दिया गया है. उन्हें जल्द ही बिलासपुर (Bilaspur) की पेंड्रा जेल (Pendra Jail) भेज दिया गया. 

इससे पहले जेल में तबियत बिगड़ने के बाद अमित जोगी को रायपुर लाया गया था. रायपुर के एक अस्पताल में उनका इलाज किया जा रहा था. इस दौरान उनकी मां रेणु जोगी (Renu Jogi) और पत्नी ऋचा जोगी (Richa Jogi) भी उनके साथ मौजूद थीं. गौरतलब है कि अमित जोगी को गोरखपुर जेल में हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत के बाद बिलासपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इसके बाद उन्हें रायपुर (Raipur) इलाज के लिए लाया गया था.