CG: धान खरीदी की तैयारियों में जुटा प्रशासन, दूसरे प्रदेशों से आने वाली खेप पर लगाई जाएगी लगाम

 छत्तीसगढ़ में 1 दिसंबर से होने वाली धान की खरीदी के लिए प्रशासन तैयारियों में जुटा है. इस बार भी खाद्य विभाग ने दूसरे प्रदेशों से आने वाले धान पर लगाम कसने की तैयारी कर ली है. 

CG: धान खरीदी की तैयारियों में जुटा प्रशासन, दूसरे प्रदेशों से आने वाली खेप पर लगाई जाएगी लगाम

रायपुरः छत्तीसगढ़ में 1 दिसंबर से होने वाली धान की खरीदी के लिए प्रशासन तैयारियों में जुटा है. इस बार भी खाद्य विभाग ने दूसरे प्रदेशों से आने वाले धान पर लगाम कसने की तैयारी कर ली है. सूरजपुर (Surajpur) में प्रशासन ने एक उड़नदस्ता बनाया है, जो दूसरे प्रदेशों से आने वाले धान पर नजर रखेगी. बताया जा रहा है कि अब तक प्रशासन ने दो ट्रक और एक पिकअप समेत करीब 1200 बोरी धान जब्त किया है.

आपको बता दें कि सूरजपुर से मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और झारखंड की सीमा लगती है. जिसकी वजह से हर साल दूसरे राज्यों से धान लाकर यहां बेचे जाने की शिकायतें मिलती रही हैं. उधर धान का समर्थन मूल्य 2500 रुपये प्रति क्विंटल किए जाने के बाद दूसरे प्रदेशों से भी धान लाए जाने की आशंका बढ़ गई है.

भागलपुर: 6200 बच्चे बने 'महात्मा गांधी', अनोखे अंदाज में दिया शांति का संदेश

राज्य सरकार के द्वारा 2500 रुपए क्विंटल धान लेने की घोषणा के बाद ऐसे माफियाओं की तादाद काफी बढ़ी है, जो प्रदेश में दूसरे राज्यों से आने वाले धान की खपत में शामिल हैं. ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि क्या इस बार अन्य प्रदेशों से अवैध तरीके से लाई जाने वाली धान पर कार्रवाई हो पाती है या अन्य सालों की तरह इस साल भी अन्य प्रदेशों का अवैध धान छत्तीसगढ़ में खपत किया जाएगा.