Korba News: व्यापारियों ने किया अनोखा प्रदर्शन, रेलवे स्टेशन पर लगाया झाड़ू-पोछा
topStories1rajasthan1461633

Korba News: व्यापारियों ने किया अनोखा प्रदर्शन, रेलवे स्टेशन पर लगाया झाड़ू-पोछा

गेवरा रोड रेलवे स्टेशन पर क्षेत्रीय व्यापारियों ने पैसेंजर ट्रेन चलाने के लिए अनोखा प्रदर्शन करते हुए डी आर एम के नाम स्टेशन मास्टर को ज्ञापन सौंपा. व्यापारियों ने रेलवे प्रबंधन के ध्यानाकर्षण के लिए रेलवे स्टेशन पर झाड़ू पोछा लगाया.

Korba News: व्यापारियों ने किया अनोखा प्रदर्शन, रेलवे स्टेशन पर लगाया झाड़ू-पोछा

नीलम दास पड़वार/कोरबा: जिले के गेवरा रोड रेलवे स्टेशन से कोरोना काल के बाद से आज तक एक भी यात्री ट्रेनों का परिचालन शुरू नहीं किया गया है, जिस वजह से गेवरा रोड से यात्रा करने वाली रेल यात्री बेहद परेशान हैं. इसी परेशानी को समझते हुए विकास नगर कुसमुंडा के व्यापारियों ने रेल प्रबंधन की कुंभकर्णीय नींद को तोड़ने के लिए स्टेशन परिसर में साफ-सफाई का अभियान चलाया. जिसके तहत स्टेशन के टिकट काउंटर, प्लेटफार्म तथा यात्रियों के बैठने की कुर्सियों को गीले कपड़े और झाड़ू लगाकर साफ किया गया. 

बता दें कि करीब घंटे भर की साफ-सफाई के बाद व्यापारियों ने बिलासपुर डीआरएम के नाम एक पत्र गेवरा रोड स्टेशन मास्टर को सौंपा, जिसमें उन्होंने गेवरा रोड से यात्री ट्रेन पुनः शुरू करने का आवेदन निवेदन किया है. यह साफ-सफाई अभियान रेलवे प्रबंधन के ध्यानाकर्षण के लिए था.

जानिए क्या कहा क्षेत्रीय लोगों ने
क्षेत्रीय व्यापारी राजेश पटेल ने बताया कि गेवरा रोड रेलवे स्टेशन कोरबा जिला का अंतिम रेलवे स्टेशन है. इस स्टेशन से सुदूर के लगभग 15 से 20 किलोमीटर के लोगों का एकमात्र साधन यह रेलवे स्टेशन है, वर्तमान में यहां से यात्री गाड़ियों के परिचालन बंद होने की वजह से सभी लोग बेहद परेशान हैं, चाहे वह व्यवसाय से संबंधित हो या इलाज कराने के लिए हो, सड़कों के खराब होने की वजह से एकमात्र निर्भरता रेल है जो आज तारीख तक बंद है, जिससे सभी बेहद दुखी हैं.

मरीजों को जाने-आने में हो रही परेशानी
वहीं गेवरा रोड रेलवे स्टेशन के सामने होटल का संचालन करने वाले एमबी गोपी ने बताया कि मुझे कैंसर है और मैं हर महीने इलाज कराने के लिए वेल्लूर जाता हूं. गेवरा रोड से यात्रा करना काफी सुविधाजनक था. यहीं से ट्रेन मिल जाती थी. यहीं से टिकट लेकर हम यात्रा करते थे, अभी कुछ भी नहीं है जिससे परेशानी होती है.

यात्रियों को उठानी पड़ रही परेशानी
गौरतलब है कि गेवरा रेलवे स्टेशन से ट्रेन बंद होने की वजह से उस क्षेत्र के यात्रियों को कोरबा से ट्रेन पकड़ना पड़ता है. लेकिन सर्वमंगला से कुसमुंडा तक सड़क का काम चल रहा है, जिस वजह से स्टेशन पहुंचने में देरी होती है. कभी-कभी ट्रेन भी छूट जाती है, जिससे लोग परेशान होते हैं. दूसरी तरफ रात के समय कुसमुंडा से कोरबा या कोरबा से कुसमुंडा रेलवे स्टेशन आने जाने में दोगुना से तिगुना किराया देना पड़ता है, जो यात्रियों पर आर्थिक बोझ है.

ये भी पढ़ेंः शादी में डीजे पर नाच रहे थे लोग, नशे में धुत चार युवकों ने चलाया देसी कट्टा और फिर....

Trending news