दिल्ली में डिलिवरी बॉय के कोरोना संक्रमित होने से दहशत में लोग, बिलासपुर में ये सर्विस बंद करने की मांग

कोरोना का संक्रमण एक-दूसरे के संपर्क में आने से फैलता है, ऐसे में बिलासपुर नगर निगम के सभापति शेख नजीरुद्दीन ने लॉकडाउन में ऑनलाइन फूड डिलिवरी पर आपत्ति जताई है.

दिल्ली में डिलिवरी बॉय के कोरोना संक्रमित होने से दहशत में लोग, बिलासपुर में ये सर्विस बंद करने की मांग
फाइल फोटो

बिलासपुर: दिल्ली में पिज्जा डिलिवरी बॉय के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अब अलग-अलग जगहों से लॉकडाउन में डिलिवरी सर्विस को बंद करने की मांग उठने लगी है. छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में भी ऑनलाइन फूड डिलिवरी को बंद कराने की मांग तेज हो गई है. कोरोना का संक्रमण एक-दूसरे के संपर्क में आने से फैलता है, ऐसे में बिलासपुर नगर निगम के सभापति शेख नजीरुद्दीन ने लॉकडाउन में ऑनलाइन फूड डिलिवरी पर आपत्ति जताई है. साथ ही सभी शहरवासियों से किसी भी हालत में लॉकडाउन का उल्लंघन न करने की अपील की है.

''कोरोना से डर मगर पेट की भूख के आगे कुछ नहीं''
बिलासपुर में फूड डिलिवरी करने वाले जयप्रकाश कश्यप ने बताया कि शहर में तकरीबन 100 सर्विस बॉयज हैं. आपदा की घड़ी में आर्थिक संकट का खतरा भी मंडराने लगा है. कोरोना से डर लगता है, लेकिन पेट की भूख के आगे कुछ नजर नहीं आता.
जय प्रकाश ने बताया कि कोरोना संकट में आम दिनों की अपेक्षा में आजकल कम ऑर्डर आते हैं. चीजों की डिलिवरी के लिए जिला प्रशासन से अनुमति मिली हुई है. हमे भी बार-बार हाथ को सेनिटाइज और फेस मास्क लगाना अनिवार्य है. ऑर्डर डिलिवरी करते समय सावधानी बरती जाती है. ऑर्डर को कस्टमर के हाथ में नहीं बल्कि घर के बाहर ही छोड़ना होता है, ताकि एक दूसरे से संपर्क ना हो.

''शर्तों के साथ डिलिवरी बॉयज को है अनुमति''
इस मामले में एडिशनल एसपी संजय ध्रुव ने बताया कि शहर में शर्तों के साथ ही डिलिवरी बयॉज को अनुमति दी गई है. बिलासपुर में जरूरत पड़ी तो डिलिवरी बयॉज का भी मेडिकल कराया जाएगा.