ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की मौत, मंत्री बोले- जिसकी उम्र हो जाती है उसे मरना पड़ता है!

शिवराज सिंह सरकार में पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल को कोरोना संकट के इस समय में बड़वानी जिले का प्रभार सौंपा गया है. इसके चलते वह जिले के दौरे पर पहुंचे थे.

ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की मौत, मंत्री बोले- जिसकी उम्र हो जाती है उसे मरना पड़ता है!
फाइल फोटो.

भोपालः मध्य प्रदेश में कोरोना से हालात बिगड़े हुए हैं. ऑक्सीजन की किल्लत के चलते मरीजों की मौत की खबरें सामने आ रही हैं. अब ऐसे हालात में शिवराज सरकार के मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने ऐसा बयान दिया है, जिसे लेकर हंगामा हो गया है. दरअसल जब मंत्री से मरीजों की मौत के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि 'जिसकी उम्र हो जाती है तो उसे मरना पड़ता है.'

ये बोले मंत्री प्रेम सिंह पटेल
शिवराज सिंह सरकार में पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल को कोरोना संकट के इस समय में बड़वानी जिले का प्रभार सौंपा गया है. इसके चलते वह जिले के दौरे पर पहुंचे थे. जब मीडियाकर्मियों ने उनसे कोरोना से हो रही मौतों को लेकर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि जिसकी उम्र हो गई है, उसको तो मरना पड़ता है. वहीं आंकड़े छिपाए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मरीजों की मौत हो जाने पर लोग चुपचाप शव को ले जाते हैं. ऐसे में सरकार क्या करे? डॉक्टरों की कमी पर उन्होंने कहा कि कुछ डॉक्टर डर के मारे काम नहीं करना चाहते हैं. 

कांग्रेस ने खोला मोर्चा
प्रेम सिंह पटेल के इस बयान पर कांग्रेस पार्टी ने मोर्चा खोल दिया है. कांग्रेस प्रवक्ता दुर्गेश शर्मा ने मंत्री को बर्खास्त करने की मांग कर दी है. उन्होंने कहा कि प्रेम सिंह पटेल का यह बयान उनकी पार्टी की सोच को दर्शाता है. संक्रमण का कहर बढ़ रहा है और ऐसे में प्रेम सिंह पटेल का यह बयान शर्मनाक है. सरकार अगर उनकी सोच का समर्थन नहीं करती तो उन्हें तत्काल बर्खास्त किया जाए. 

ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की मौत
बता दें कि मध्य प्रदेश के जबलपुर में ऑक्सीजन की कमी से गुरुवार को 5 मरीजों की मौत हो गई. वहीं 4 की हालत गंभीर है. बता दें कि मरने वाले सभी मरीज वेंटिलेटर पर थे. ऐसे में ऑक्सीजन की पर्याप्त सप्लाई ना होने से मरीजों ने दम तोड़ दिया. एक मरीज की मौत जबलपुर के मेडिसिटी अस्पताल में और 4 मरीजों की मौत सुख सागर अस्पताल में हुई है. वहीं इंदौर और भोपाल में हालात खराब होते जा रहे हैं. पिछले 24 घंटे में इंदौर में कोरोना के कुल 1693, भोपाल में 1637, जबलपुर में 653 और ग्वालियर में 652 नए मरीज मिले हैं.