close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जब पटरी पर दौड़ी 2 किमी लंबी मालगाड़ी, 177 डिब्बों वाली एनाकोंडा को देखकर सब रह गए हैरान

रायपुर मंडल के वरिष्ठ परिचालन प्रबंधक डॉ. प्रकाश चंद्र त्रिपाठी ने मालगाड़ी एनाकोंडा को शाम साढ़े पांच बजे के लगभग भिलाई से कोरबा के लिए रवाना किया, जिसके बाद ट्रेन रात 11 बजे कोरबा पहुंची.

जब पटरी पर दौड़ी 2 किमी लंबी मालगाड़ी, 177 डिब्बों वाली एनाकोंडा को देखकर सब रह गए हैरान
भिलाई से कोरबा के बीच दौड़ी 2 किमी लंबी एनाकोंडा मालगाड़ी

नई दिल्लीः सोमवार को छत्तीसगढ़ के भिलाई से कोरबा के बीच 177 डिब्बे और करीब 2 किलो मीटर लंबी एनाकोंडा मालगाड़ी का परिचालन किया गया. रेलवे ऑफिसर्स के मुताबिक यह देश की अब तक की सबसे लंबी मालगाड़ी है, जिसमें 177 डिब्बे हैं और यह दो किलो मीटर से भी ज्यादा लंबी है. अफसरों का कहना है कि यह पहला मौका है जब ट्रिपल इंजन लगाकर इतनी लंबी ट्रेन चलाई गई है. रायपुर मंडल के वरिष्ठ परिचालन प्रबंधक डॉ. प्रकाश चंद्र त्रिपाठी ने मालगाड़ी एनाकोंडा को शाम साढ़े पांच बजे के लगभग भिलाई से कोरबा के लिए रवाना किया, जिसके बाद ट्रेन रात 11 बजे कोरबा पहुंची. इस दौरान ट्रेन ने रायपुर, बिलासपुर जैसे शहरों को भी क्रॉस किया.

मिली जानकारी के मुताबिक इस मालगाड़ी में तीन इंजन लगाए गए हैं. जिनमें से मालगाड़ी के परिचालन के दौरान तीनों इंजन ऑन रखे गए थे, लेकिन पहले इंजन में तैनात लोको पायलट और सहायक ने मिलकर ही पूरी ट्रेन चलाई. पीछे के दोनों इंजन में किसी भी ड्राइवर को तैनात नहीं किया गया था. हालांकि जैसा की हर ट्रेन में होता है, पीछे एक गार्ड को जरूर तैनात किया गया था. वहीं परिचालन के दौरान ट्रेन को किसी भी स्टेशन पर नहीं रोका गया, जिससे स्टेशन्स पर मौजूद लोगों ने जैसे ही इसकी लंबाई देखी, हैरान रह गए और यही सोचते रहे कि आखिर इस ट्रेन की लंबाई कितनी होगी.

दिल्ली-वाराणसी के बाद इस रूट पर दौड़ सकती है दूसरी Train-18, इसी महीने ट्रायल की संभावना

बता दें इससे पहले मार्च में ही ओडिशा के संबलपुर में देश की सबसे लंबी ट्रेन का परीक्षण किया गया था. ईस्ट कोस्ट रेलवे ने ओडिशा के संबलपुर में 147 डिब्बे और 2 कि.मी. लंबी इस मालगाड़ी को चलाया था. जिसका एक वीडियो भी संबलपुर डीएम ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया था. सबंलपुर रेल विभाग ने इस ट्रेन को गोडभागा से बालांगीर के बीच सिंगल सिग्नल पर चलाया था. इस दौरान ट्रेन ने 145 किलोमीटर की दूरी तय की. वहीं इस मालगाड़ी को भी देखकर लोग काफी हैरान थे, क्योंकि यह अभी तक की देश की सबसे लंबी ट्रेन थी. हालांकि अब यह रिकॉर्ड छत्तीसगढ़ के नाम हो गया है.