खरगोन गैंगरेप मामलाः चोरी के बाद नाबालिग से किया था गैंगरेप, 9 दिन बाद पुलिस ने किया गिरफ्तार

बीते 29 सितम्बर को खरगोन के झिरन्या में एक नाबालिग लड़की से गैंगरेप का मामला सामने आया था. लड़की के भाई ने कहा था कि पुलिस ने एक्शन लेने में देरी की.

खरगोन गैंगरेप मामलाः चोरी के बाद नाबालिग से किया था गैंगरेप, 9 दिन बाद पुलिस ने किया गिरफ्तार
सांकेतिक तस्वीर

खरगोनः प्रदेश के खरगोन जिले में नाबालिग से हुए गैंगरेप के 9 दिन बाद पुलिस के हाथ सफलता लगी है. सितम्बर में बालिका से हुई घिनौनी वारदात पर पीड़िता के भाई ने कहा था कि पुलिस एक्शन लेने में देरी कर रही है. जिसके 9 दिन बाद पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया, तो वहीं घटना का एक आरोपी अब भी फरार है.

'खरगोन नाबालिग गैंगरेप अति शर्मनाक, सरकार उठाए सख्त कदम'-मायावती

पुलिस ने बताया कि तीनों आरोपी इंदौर से मोटरसाइकिल चुरा कर निकले थे. इसी दौरान तीनों आरोपियों ने जिले के झिरन्या क्षेत्र के मारुगढ़ में खेत के बाहर सो रहे भाई-बहन को देखा. उन्होंने भाई के साथ मारपीट की और बहन को उठा कर पास के जंगल में ले गए, और वहां उसके साथ घिनौनी वारदात को अंजाम दिया.

VIDEO: क्या होती है TRP?, कैसे पता चलता है कि कौन-सा चैनल कितना देखा जा रहा है?

सनावद के पास से पकड़ा गया एक आरोपी
बीते 29 सितम्बर को नाबालिग से गैंगरेप के बाद मामला उजागर हुआ था. जिसके 9 दिन गिरफ्तारी पर डीआईजी तिलोकसिंह एवं एसपी शैलेनद्रसिंह ने खुलासा किया कि घटना के एक आरोपी को सनावद के पास बड़ूद से गिरफ्तार किया गया है. वारदात के तीनों आरोपी खरगोन जिले के ही रहने वाले बताए गए हैं. 

घटना सामने के बाद बसपा चीफ मायावती ने भी वारदात को शर्मनाक बताते हुए, प्रदेश सरकार से सख्त कदम उठाने को कहा था. जिस पर बीजेपी ने कहा था कि जांच कर दोषियों को जल्द सजा मिलनी चाहिए. लेकिन बलात्कार जैसे मामलों में राजनीति करना गलत है.

WATCH LIVE TV