MP: आज थम जाएगा चुनाव प्रचार, चंद घंटे पहले तक ये दिग्गज नेता करेंगे रैलियां

मध्य प्रदेश में 28 नवंबर को होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए सोमवार शाम को 5 बजे प्रचार थम जाएगा.

MP: आज थम जाएगा चुनाव प्रचार, चंद घंटे पहले तक ये दिग्गज नेता करेंगे रैलियां
मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को मतदान होगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

भोपाल: मध्य प्रदेश में 28 नवंबर को होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए सोमवार शाम को 5 बजे प्रचार थम जाएगा. इसके बाद वोटिंग तक उम्मीदवार सिर्फ डोर टू डोर वोट मांगेंगे. इस दौरान सभाएं आयोजित नहीं की जा सकेंगी. हालांकि, प्रचार खत्म होने के चंद घंटे पहले तक प्रदेश में दिग्गज नेताओं की रैलियां और रोड शो होंगे.

अमित शाह
रविवार रात इंदौर पहुंचे बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सोमवार को इंदौर, धार और कुक्षी में रोड शो करेंगे. दोपहर 12 बजे वे कुक्षी में आम सभा को भी संबोधित करेंगे. इसके बाद करीब 2 बजे इंदौर में रोड शो करेंगे, शो तकरीबन शाम 4 बजे तक चलेगा. फिर वहां से शाह दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे.

शिवराज सिंह चौहान
मध्यप्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान छतरपुर के घुवारा में एक सभा चुनावी सभा को संबोधित करेंगे. बाद में वे निवाड़ी, बीना, लटेरी, शमशाबाद समेत कई जगह रोड शो करेंगे. उनकी सभाएं तयशुदा कार्यक्रम के मुताबिक 3.30 बजे तक चलेंगी.

छत्तीसगढ़ के सीएम भी आएंगे
बीजपी के  स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह भी राज्य से सटे एमपी के बालाघाट, मंडला में सभा को संबोधित करेंगे.

इन स्टार प्रचारकों की रैलियां
पांच बजे चुनाव प्रचार खत्म के कुछ देर पहले तक  बीजेपी की स्टार प्रचारक स्मृति ईरानी, रवि किशन, मुख्तार अब्बास नकवी, मनोज तिवारी सभाओं को संबोधित करेंगे. वहीं, सपा के प्रचारक अखिलेश यादव भी अपने प्रत्याशियों के पक्ष में चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे.

सुरक्षा के तगड़े इंतजाम
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, विधानसभा चुनाव के लिए 28 नवंबर को होने वाले मतदान समाप्ति के 48 घंटे पहले यानी 26 नवंबर की शाम पांच बजे चुनाव प्रचार थम जाएगा. इसके बाद राजनीतिक दल केवल डोर टू डोर प्रचार कर सकेंगे. लाउडस्पीकर अथवा किसी भी प्रकार के ध्वनि विस्तारक यंत्र का उपयोग प्रतिबंधित रहेगा .

650 कंपनियां तैनात
आधिकारिक जानकारी के अनुसार, चुनाव में कानून एवं शांति व्यवस्था के लिए और शांतिपूर्ण मतदान के उद्देश्य से केंद्रीय सुरक्षाबलों की 650 कंपनियां तैनात की गई हैं. इसके साथ ही प्रदेश के बाहर से आए 33 हजार होमगार्ड भी निर्वाचन ड्यूटी में तैनात किए जाएंगे. वहीं, सुरक्षा के लिए हेलिकॉप्टर का भी सहारा लिया जा रहा है.

मुरैना, भिंड में खास इंतजाम
बालाघाट जिले में केंद्रीय सुरक्षाबलों की 76 कंपनियां, भिंड में 24, छिंदवाड़ा और मुरैना में 19-19, सागर और भोपाल में 18-18 कंपनियां तैनात की गई हैं. प्रदेश के 85 प्रतिशत पुलिस बल और होमगार्ड के 90 प्रतिशत बल चुनाव कार्य में तैनात किए गए हैं. सुरक्षा व्यवस्था के लिये बालाघाट, मंडला और भोपाल में एक-एक हेलीकॉप्टर तैनात रहेंगे. संचार व्यवस्था बेहतर करने के लिए 20 सेटेलाइट फोन और 28 हजार वायरलेस सेट चुनाव में उपयोग किए जा रहे हैं.