close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जैसे ही डॉक्टर ने बेटे को मृत बताया, मां शव लेकर दौड़ती ट्रेन की ओर भागी, मौत

अपने छह वर्षीय बेटे की मौत का गम एक मां बर्दाश्त नहीं कर पाई. बदहवास महिला दौड़ती ट्रेन के सामने संतान के शव के साथ कूद गई. 

जैसे ही डॉक्टर ने बेटे को मृत बताया, मां शव लेकर दौड़ती ट्रेन की ओर भागी, मौत
दौड़ती ट्रेन के सामने कूदने वाली महिला के शव की पहचान भारती पटेल (30) के रूप में हुई है...(प्रतीकात्मक फोटो)

इंदौर: अपने छह वर्षीय बेटे की मौत का गम एक मां बर्दाश्त नहीं कर पाई. बदहवास महिला दौड़ती ट्रेन के सामने संतान के शव के साथ कूद गई. ट्रेन से कटने के कारण महिला की मौत हो गई. दर्दनाक वाकया इंदौर में हुआ.  

राजेंद्र नगर पुलिस थाने के उप निरीक्षक ने बताया कि नालंदा परिसर के पास की रेलवे पटरी पर दौड़ती ट्रेन के सामने कूदने वाली महिला के शव की पहचान भारती पटेल (30) के रूप में हुई है. उसने अपने बेटे रूपेंद्र (6) के शव के साथ ट्रेन के सामने छलांग लगायी थी.

उप निरीक्षक ने बताया कि भारती अपने पति विश्वनाथ से यह कहकर घर से निकली थी कि बेटे की तबीयत ज्यादा खराब होने पर वह उसे शासकीय चाचा नेहरू बाल चिकित्सालय ले जा रही है. महिला का पति एक तेल मिल में काम करता है.

इस बीच, शासकीय चाचा नेहरू बाल चिकित्सालय के अधीक्षक डॉ. हेमंत जैन ने बताया, "भारती जब अपने बेटे को लेकर हमारे अस्पताल आई, तब बच्चे की मौत हो चुकी थी. डॉक्टरों ने जांच के बाद उसे औपचारिक रूप से मृत घोषित कर दिया था." जैन ने बताया कि छह वर्षीय बालक सिकल सेल एनीमिया का मरीज था. इस बीच, पुलिस ने महिला और उसके बेटे के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया. मामले की विस्तृत जांच की जा रही है.