राष्ट्रीय बालिका दिवसः लाडलियों के खाते में पैसे डालेंगे CM शिवराज, करेंगे 'पंख अभियान' की शुरुआत

राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर प्रदेशभर में बेटियों को लेकर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे.

राष्ट्रीय बालिका दिवसः लाडलियों के खाते में पैसे डालेंगे CM शिवराज, करेंगे 'पंख अभियान' की शुरुआत

भोपालः 24 जनवरी हर साल देश में राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है. इसकी शुरुआत 2008 में की गई थी. इस दिन को खास बनाने के लिए मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार प्रदेशभर में बेटियों को लेकर कार्यक्रम आयोजित कर रही है. वहीं सरकार बेटियों की सुरक्षा और जागरूकता को लेकर 'पंख अभियान' की शुरुआत भी करने वाली है.

यह भी पढ़ेंः- शिवराज सरकार का बड़ा ऐलान, सरकारी विभागों पर लगे खर्च प्रतिबंध को हटाया

खाते में डालेंगे योजना की राशि

CM शिवराज आज भोपाल में संवाद करने वाले हैं, जहां वह 'लाडली लक्ष्मी योजना' के अंतर्गत आने वाली बेटियों को छात्रवृत्ति का वितरण करेंगे. साथ ही सीएम द्वारा 'प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना' की हितग्राहियों को मातृ सहायता राशि का भी वितरण किया जाएगा. सीएम इसी कार्यक्रम में 501 आंगनबाड़ी भवन और 12 वन स्टॉप सेंटर्स का भी लोकार्पण करेंगे.

 

बालिका दिवस पर ही होगी 'पंख अभियान' की शुरुआत
शिवराज सरकार द्वारा लाए जाने वाले पंख अभियान का मुख्य उद्देश्य बालिकाओं को सुरक्षा, जागरूकता, पोषण, जानकारी और स्वास्थ्य व स्वच्छता से जोड़ते हुए उनका विकास करना है. अभियान को पूरा करने की जिम्मेदारी शिक्षा, सामाजिक कल्याण, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की रहेगी. जो डेटाबेस तैयार कर बेटियों के स्वास्थ्य, शिक्षा और सुरक्षा को सुनिश्चित करेंगे और उनके विकास की देखरेख करेंगे. योजना के अंतर्गत पुलिस विभाग के साथ मिलकर किशोरियों को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण और पंचायत स्तर पर वोकेशनल ट्रेनिंग भी दी जाएगी.

यह भी पढ़ेंः- भारत में ड्रैगन फ्रूट जो बन गया ''कमलम'', इसे खाने से मिलते है गजब के फायदे, जानिए

2008 में हुई थी बालिका दिवस मनाने की शुरुआत
भारत सरकार ने 2008 में हर साल 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाने की शुरुआत की थी. 24 जनवरी का दिन इसलिए चुना गया क्योंकि इसी दिन 1966 में इंदिरा गांधी ने देश की पहली महिला प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी. इस दिन देशभर में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं. जिसमें सेव द गर्ल चाइल्ड, चाइल्ड सेक्स रेशियो, और बालिकाओं के लिए स्वास्थ्य और सुरक्षित वातावरण बनाने सहित जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करना भी शामिल है.

यह भी पढ़ेंः- ग्वालियर 'व्यापार मेले' को हरी झंडी, 10 फरवरी को CM शिवराज कर सकते हैं उद्घाटन

WATCH LIVE TV