छत्तीसगढ़: ATM क्लोन कर धोखाधड़ी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़, 4 गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि आरोपी छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, झारखंड, बिहार, उड़ीसा, गुजरात, दिल्ली, राजस्थान, महाराष्ट्र सहित कई दूसरे राज्यों में धोखाधड़ी कर चुके थे.

छत्तीसगढ़: ATM क्लोन कर धोखाधड़ी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़, 4 गिरफ्तार
ATM की क्लोनिंग कर लाखों की धोखाधड़ी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के 4 सदस्य गिरफ्तार (फाइल फोटो)

कोरिया: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरिया जिले में एटीएम की क्लोनिंग कर लाखों की धोखाधड़ी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के 4 सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है. चारों आरोपी हरियाणा के रहने वाले हैं.

पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने जिले के जवाहरलाल राजवाडे और बिंदेश्वर सिंह के एटीएम कार्ड की क्लोनिंग कर धोखाधड़ी की थी. जिसके बाद पुलिस टीम ने एटीएम में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर आरोपियों की पहचान की. पुलिस ने सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए तस्वीरें भी वायरल की.

जिसके बाद, पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि वायरल तस्वीर से मिलता जुलता एक शख्स अपने साथियों के साथ स्विफ्ट कार में फिर से ठगी करने के लिए पटना क्षेत्र में एटीएम के आसपास घूम रहा है. जिस पर पुलिस टीम ने घेराबंदी की और आरोपी राजेश, राजकुमार, राजेश और तिलकराज को धरदबोचा.

पुलिस ने आरोपियों के पास से 58 हजार नकद, 3 एटीएम क्लोनिंग डिवाइस और 15 एटीएम कार्ड, पॉकेट डायरी, एक मोबाइल और कार बरामद की है.

पुलिस ने बताया कि आरोपी मोबाइल का इस्तेमाल नहीं करते थे. केवल मोबाइल में एप के जरिए ऑफलाइन एटीएम की डिटेल्स मोबाइल में ट्रांसफर करते थे. पुलिस ने बताया कि आरोपी छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, झारखंड, बिहार, उड़ीसा, गुजरात, दिल्ली, राजस्थान, महाराष्ट्र सहित कई दूसरे राज्यों में धोखाधड़ी कर चुके थे.

आरोपी एटीएम से पैसा निकालने में लोगों की मदद करने के बहाने उनके एटीएम कार्ड को पहले से हाथ में रखे छोटे से स्कैनिंग डिवाइस से स्कैन करते थे. फिर उसके गोपनीय पिन को पीछे से देखकर एटीएम कार्ड का क्लोन तैयार कर दूसरे एटीएम में जाकर पैसा निकाल लेते थे.