close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जंगली हाथी के हमले में सेवानिवृत्त BSF जवान की मृत्यु

जशपुर वनमंडल के अधिकारी ने बताया कि जंगली हाथियों के उत्पात से ओडिशा और झारखंड राज्य से लगे दर्जन भर गांव प्रभावित हैं.

जंगली हाथी के हमले में सेवानिवृत्त BSF जवान की मृत्यु
ओडिशा की सीमा से लगे तपकरा वन परिक्षेत्र के दबकला गांव में जंगली हाथियों ने बीएसएफ के सेवानिवृत्त जवान त्योफिल तिर्की (55 वर्ष) को कुचलकर मार डाला. (फाइल फोटो)

जशपुरः छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में जंगली हाथी के हमले में सीमा सुरक्षा बल के एक सेवानिवृत्त जवान की मृत्यु हो गई है.जशपुर वनमंडल के अधिकारी कृष्ण कुमार जाधव ने आज बताया कि बीती रात ओडिशा की सीमा से लगे तपकरा वन परिक्षेत्र के दबकला गांव में जंगली हाथियों ने बीएसएफ के सेवानिवृत्त जवान त्योफिल तिर्की (55 वर्ष) को कुचलकर मार डाला.

जाधव ने बताया कि बीती रात तपकरा वन परिक्षेत्र के दबकला गांव में ओडिशा के हाथियों का दल पहुंच गया. तिर्की बीती रात करीब के गांव से पारिवारिक कार्यक्रम में शामिल होकर पैदल अपने गांव आ रहा था तब हाथियों ने उसे घेर लिया और कुचलकर मार डाला.

अधिकारी ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद वन विभाग के अधिकारी गांव पहुंचे तथा पीड़ित परिवार के सदस्यों को तत्काल 25 हजार रुपये की आर्थिक सहायता राशि दी गई. जाधव ने बताया कि जंगली हाथियों के उत्पात से ओडिशा और झारखंड राज्य से लगे दर्जन भर गांव प्रभावित हैं.

उन्होंने बताया कि ओडिशा और झारखंड राज्य के सुन्दरगढ़ और सिमडेगा जिले के वन अधिकारियों की संयुक्त बैठक बुलाकर सूचनाओं के आदान प्रदान के लिए इंतजाम किए जाएंगे. जशपुर जिले के सभी प्रभावित गांवों में जागरूकता अभियान पर भी जोर दिया जाएगा.

जाधव ने बताया कि जंगली हाथियों का दल तपकरा, कुनकुरी और पत्थलगांव क्षेत्र के जंगलों में विचरण करने लगा है. हाथियों के दलों पर लगातार निगरानी के साथ साथ छत्तीसगढ़, झारखंड और ओडिशा राज्य में आवाजाही की सूचना पर तीनों राज्य का वन अमला संयुक्त रूप से काम करेगा.