इन पुलिसकर्मियों ने पेश की मानवता की ऐसी मिसाल, आप भी जानेंगे तो करेंगे सैल्यूट

छतरपुर से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें स्थानीय पुलिसकर्मियों ने मानवता की मिसाल पेश की है. 

इन पुलिसकर्मियों ने पेश की मानवता की ऐसी मिसाल, आप भी जानेंगे तो करेंगे सैल्यूट

छतरपुरः कोरोना महामारी के इस दौर में जब हर तरफ से नकारात्मक खबरें मिल रही हैं. ऐसे समय में भी कई लोग हैं, जो मानवता की सेवा में जी जान से जुटे हैं. ऐसे ही लोगों में पुलिसकर्मी भी हैं. छतरपुर से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें स्थानीय पुलिसकर्मियों ने मानवता की मिसाल पेश की है. 
 
पुलिसकर्मियों की इंसानियत को सैल्यूट करेंगे
दरअसल छतरपुर के प्रकाश बम्होरी इलाके में एक 85 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई. लेकिन कोरोना के डर से गांव में अर्थी को कंधा देने के लिए कोई आगे नहीं आया. ऐसे में स्थानीय पुलिस ने आगे बढ़कर यह जिम्मेदारी उठाई और यह साबित कर दिया कि जब भी समाज संकट में होगा तो पुलिसकर्मी किसी भी खतरे की परवाह किए बगैर अपना फर्जी पूरी शिद्दत से निभाएंगे. 

बता दें कि थाना प्रभारी और अन्य पुलिसकर्मियों ने वृद्ध के शव को कंधा दिया और अंतिम संस्कार भी कराया. पुलिस के इस कदम की लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं. 

कोरोना महामारी के इस दौर में पुलिस ना सिर्फ इंसानों का बल्कि पशु-पक्षियों का भी ख्याल रख रही है. दरअसल सागर जिले की जरुआखेड़ा पुलिस चौकी में पुलिस ने गर्मियों के चलते पक्षियों को पानी पीने के लिए चौकी के आसपास पेड़ों पर कुप्पे टांग दिए हैं, जिनमें पक्षियों के लिए पानी और दाने की व्यवस्था की गई है. पुलिस की इस पहल की लोग खूब तारीफ कर रहे हैं.