CM बघेल ने सोनिया गांधी को दी छत्तीसगढ़ में जारी IT के छापों की जानकारी, बताया- संघीय ढांचे पर हमला

सोनिया गांधी के साथ सीएम बघेल की मुलाकात करीब 40 मिनट तक चली. इस दौरान कांग्रेस पार्टी के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीेएल पुनिया भी साथ में मौजूद रहे.

CM बघेल ने सोनिया गांधी को दी छत्तीसगढ़ में जारी IT के छापों की जानकारी, बताया- संघीय ढांचे पर हमला

राहुल मिश्रा/दिल्ली: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की. दोनों के बीच करीब 40 मिनट तक चली मुलाकात के दौरान कई अहम मसलों पर चर्चा हुई. बैठक में सबसे महत्वपूर्ण छत्तीसगढ़ में जारी इनकम टैक्स की छापेमार कार्रवाई पर बात हई. भूपेश बघेल के साथ कांग्रेस पार्टी के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया भी मौजूद रहे.

''बीजेपी संघीय व्यवस्था को छिन्न-भिन्न करने में लगी है''
मुलाकात के बाद सीएम बघेल और पीएल पुनिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष को IT रेड की जानकारी दी गई है. मामले में सरकार कानूनी सलाह लेगी. पहली बार ऐसा हुआ है जब बिना किसी जानकारी के CRPF के जवानों को लेकर आयकर विभाग की टीम राज्य में घुसी है. किसी को कोई जानकारी नहीं दी गई. राज्यपाल को ज्ञापन भी सौंपा फिर भी हमें सूचना नहीं दी. कई जगहों पर छापेमारी पूरी हो चुकी है. बावजूद इसके अब तक कहां से क्या मिला इसकी कोई जानकारी नहीं दी गई है. यह सब कुछ संघीय व्यवस्था के विपरीत है. केंद्र में बैठी बीजेपी सरकार लगातार संघीय व्यवस्था को छिन्न-भिन्न करने में लगी हुई है.

सीएम बघेल ने कहा, छत्तीसगढ़ में नक्सल प्रभावित क्षेत्र हैं. नक्सली पुलिस की वर्दी में घूमते रहते हैं, ऐसे में कोई घटना घट जाए उसके लिए जिम्मेदार कौन होगा. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी छत्तीसगढ़ दौरे पर हैं. इनकम टैक्स की गाड़ियों को जब्त करने की बात पर बघेल ने कहा, ''लावारिस पड़ी 20 गाड़ियां हमने पकड़ ली तो हाय-तौबा मचाने लगे. सुरक्षा और लॉ एंड ऑर्डर की जिम्मेदारी राज्य सरकार की होती है.''

भूपेश बघेल ने बीजेपी और रमन सिंह पर निशाना साधते हुए कहा, ''बीजेपी छत्तीसगढ़ में हर चुनाव हारी है. रमन सरकार में कई घोटाले हुए. पनामा पेपर लीक मामले में एक लड़के का भी नाम आया जो सांसद था. सेंट्रल एजेंसी इतनी ही निष्पक्ष है तो उसके खिलाफ क्यों नहीं करवाई हुई. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री तक का इस्तीफा हो गया.

कांग्रेस पार्लियामेंट में उठाएगी मुद्दा
प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पीएल पुनिया ने कहा कि हम प्रदेश में जारी इनकम टैक्स की छापेमार कार्रवाई के मुद्दे को पार्लियामेंट में उठाएंगे. यह मुद्दा अब सेंट्रल स्टेट रिलेशनशिप का है. फेडरल स्ट्रक्चर संविधान का है.

राज्यसभा की सीटों पर भी हुई चर्चा
सोनिया गांधी से हुई मुलाकात के दौरान राज्यसभा की दो सीटों पर भी चर्चा हुई. इस बार छत्तीसगढ़ की दोनों सीटें कांग्रेस की झोली में हैं. ऐसे में सीएम बघेल ने बताया कि आलाकमान जो नाम तय करेगे वही कैंडिडेट होगा.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस के आरोपों पर रमन सिंह का पलटवार, पूछा- छापों से क्यों बौखलाई भूपेश सरकार?