सिर्फ चाय के सहारे 33 वर्षों से जिंदा है ये महिला, लोगों ने नाम रखा ''चाय वाली चाची", जानिए वजह
X

सिर्फ चाय के सहारे 33 वर्षों से जिंदा है ये महिला, लोगों ने नाम रखा ''चाय वाली चाची", जानिए वजह

44 वर्ष की महिला पल्ली देवी के पिता रतिराम बताते हैं कि पल्ली जब छठवीं कक्षा में थी, तब से ही उसने भोजन को छोड़ दिया.

सिर्फ चाय के सहारे 33 वर्षों से जिंदा है ये महिला, लोगों ने नाम रखा ''चाय वाली चाची

कोरिया: छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में रहने वाली एक महिला सिर्फ चाय पीकर पिछले 33 वर्षों से जिंदा है. वह न सिर्फ जीवित हैं ब्लकि पूरी तरह से स्वस्थ्य भी है. इस महिला की इस अनूठी शारीरिक विशेषता को देखकर डॉक्टर भी हैरत में है. महिला का नाम पल्ली देवी है. वहीं स्थानीय लोग उन्हें "चाय वाली चाची" के नाम से जानते हैं. पल्ली देवी कोरिया जिले के बैकुन्ठपुर विकासखण्ड के बरदिया गांव में रहती हैं. पल्ली देवी पिछले 33 सालों से सिर्फ चाय पर जिंदा हैं. परिवार के लोगों की मानें तो वह अन्न-जल को मुंह तक नहीं लगाती हैं.

शादी से ठीक पहले दूल्हा हो गया फरार, फिर मंडप में हुआ कुछ ऐसा जो बन गयी मिसाल

छठवीं कक्षा से ही भोजन छोड़ दिया
44 वर्ष की महिला पल्ली देवी के पिता रतिराम बताते हैं कि पल्ली जब छठवीं कक्षा में थी, तब से ही उसने भोजन को छोड़ दिया. पिता बताते है कि उन्होंने अचानक ही खाना-पीना त्याग दिया. पहले तो एक दो माह तक उसने बिस्किट, चाय और ब्रेड लिया लेकिन उसके बाद उसने धीरे-धीरे बिस्किट और ब्रेड भी खाना छोड़ दिया.

हमने जब से होश संभाला तब से ऐसा ही देखा
भाई बिहारी लाल रजवाड़े ने बताया कि जब से हमने होश संभाला है, अपनी बहन को इसी तरह देखते आ रहे है. वह दिन ढलने के बाद चाय पीती है. हमारी बहन कोरिया जिले के तरगवा गांव में 1985 में शादी होकर राम रतन के यहां गई थी. पहली बार वापस आने के बाद दोबरा नही गई. पल्ली देवी ने बताया की भूख नहीं लगती है लेकिन दिन ढलने के बाद लाल चाय पीती हूं.

दूध वाले ने परिवार को चिल्लाया था
उनके भाई बिहारी लाल रजवाड़े ने बताया कि परिवार में जिस जगह से दूध आता था. वहां पैसे देने में थोड़ा विलंब हो गया था. दूध वाले ने परिवार को इसके लिए खरी-खोटी सुनाई थी, इससे नाराज होकर पल्ली देवी लाल चाय पीने लगी. उन्होने पल्ली देवी को डॉक्टरों को भी दिखाया ताकि यह पता किया जा सके कि कहीं उन्हें कोई बीमारी तो नहीं है तो डॉक्टरों की जांच में उन्हें किसी बीमारी का पता भी नहीं चल सका.

मध्य प्रदेश में फिर होगी बारिश, कोहरा भी दिखाएगा तेवर, मौसम विभाग ने दी ये जानकारी

भगवान शिव की पूजा में लीन रहती है
परिजन कई बार पल्ली देवी को लेकर कई हॉस्पिटलों में गए, कोई भी डॉक्टर उनकी इस स्थिति के पीछे के कारण के बारे में नहीं बता पाया. वे दिन-रात बस भगवान शिव की पूजा में लगी रहती है. घर से बाहर कही नहीं जाती है.

डॉक्टर हुए हैरान
कोरिया के जिला अस्पताल के डॉ एसके गुप्ता का कहना हैं कि किसी इंसान के लिए सिर्फ चाय पीकर जीवित रहना संभव ही नहीं है. यहा चौंकाने वाली बात है, वैज्ञानिक नजरिये से एक व्यक्ति 33 सालों तक सिर्फ चाय पीकर जिंदा नहीं रह सकता है. यह इस बात से बिल्कुल अलग है कि लोग 9 दिनों के लिए नवरात्रि के त्योहार पर व्रत रखते हैं और केवल चाय पीते हैं. लेकिन 33 साल बहुत ज्यादा होते हैं और यह संभव नहीं है.

WATCH LIVE TV

Trending news