Sawan 2021: बाबा महाकाल को रमाई भस्म, पशुपतिनाथ में उमड़े श्रद्धालु; घर बैठे ही भक्त ले सकेंगे आरती का आनंद

लाइव दर्शन की व्यवस्था मंदिर प्रबंध समिति ने www.mahakaleshwar.nic.in एवं फेसबुक पेज पर की. मंदिर में आरती और दिन भर दर्शन के साथ सवारी का सीधा प्रसारण किया जाएगा.

Sawan 2021: बाबा महाकाल को रमाई भस्म, पशुपतिनाथ में उमड़े श्रद्धालु; घर बैठे ही भक्त ले सकेंगे आरती का आनंद

राहुल राठौर/उज्जैन: Sawan Somwar 2021: आज से सावन का पावन महीना शुरू हो रहा है. 26 जुलाई को सावन के पहले सोमवार से पहले श्रद्धालुओं को उज्जैन महाकाल मंदिर प्रबंधन ने तोहफा दिया. सुबह 3 बजे से 6 बजे तक होने वाली भस्मारती का वीडियो जारी कर भक्तों को घर बैठे ही बाबा महाकाल के दर्शन करने का मौका दिया. वहीं मंदसौर स्थित पशुपतिनाथ मंदिर में भी श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी. कोरोना गाइडलाइन के चलते इस बार कम ही भक्तों को मंदिर दर्शन की परमिशन मिली, ऐसे में मंदिर के इस वीडियो से श्रद्धालुओं के चेहरे खिल उठेंगे. 

सोमवार को रहेगी ये व्यवस्था
कोरोना की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन ने उज्जैन के महाकाल मंदिर में दर्शकों के आने पर रोक लगाई. श्रद्धालु भस्म व शयन आरती में शामिल नहीं हो सकेंगे. सोमवार को श्रद्धालु सुबह 6 से 11 बजे तक और शाम 7 से 9 बजे तक आकर दर्शन कर सकेंगे. श्रद्धालु प्री बुकिंग कर दर्शन कर सकेंगे, बुकिंग नहीं होने पर मंदिर आकर काउंटर से 251 का शुल्क देकर भी एंट्री मिलेगी. लेकिन 251 रुपए वाले बुकिंग काउंटर सोमवार को बंद रहेंगे. 

यह भी पढ़ेंः- सावन सोमवार 2021: आज से शुरू हुआ श्रावण मास, इन फूलों से भोले को करें प्रसन्न, जानें पूजा की विधि

पुजारियों ने किया शिव अभिषेक
महाकाल मंदिर के पुजारी आशीष गुरु ने बताया कि सावन के पहले दिन भस्मारती के दौरान पंडे-पुजारियों द्वारा बाबा को जल चढ़ाया गया. फिर दूध, घी, दही, शक्कर, शहद से पंचामृत हुआ, अभिषेक के बाद बाबा का भांग से विशेष श्रृंगार कर विनीत गिरी महाराज ने बाबा को भस्म रमाई. एक घंटे चली आरती के बाद बाबा का चंदन, फलों व वस्त्रों से श्रृंगार हुआ. गणेश मंडपम, नंदी हाल, कार्तिक हाल जो कभी श्रद्धालुओं से भरे रहते थे, उनके बिना इस बार कुछ अधूरे से नजर आए. 

इस तरह कर सकेंगे दर्शन
सावन महीने में हर दिन 7 स्लॉट में पांच हजार श्रद्धालु महाकाल दर्शन का लाभ ले सकेंगे. प्री बुकिंग के साथ ही ऑन स्पॉट बुकिंग भी चालू रहेगी. श्रद्धालुओं को वैक्सीन सर्टिफिकेट या फिर 48 घंटे के अंदर की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी. लाइव दर्शन की व्यवस्था मंदिर प्रबंध समिति ने www.mahakaleshwar.nic.in एवं फेसबुक पेज पर की. मंदिर में आरती और दिन भर दर्शन के साथ सवारी का सीधा प्रसारण किया जाएगा.

यह भी पढ़ेंः- MPPSC 2020: Prelims एग्जाम आज, कोरोना संक्रमित भी हो सकेंगे शामिल, भोपाल में बनाए गए सेंटर

पशुपतिनाथ में उमड़े श्रद्धालु
महाकाल में सुबह तीन बजे दर्शन को भीड़ उमड़ने के साथ ही मंदसौर स्थित पशुपतिनाथ में भी सावन माह मनाया गया. सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु दर्शन के लिए उमड़ पड़े, इस दौरान मास्क और डिस्टेंसिंग का पालन किया गया. वहीं लोगों की थर्मल स्कैनिंग भी की गई. कोरोना को देखते हुए प्रशासन ने सावन में भी पशुपतिनाथ मंदिर के यहां पुलिस बल को तैनात किया. कोविड गाइडलाइंस पालन के सख्त निर्देश हैं. कोरोना के चलते गर्भगृह में भक्तों को प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई. भक्त गर्भ गृह के बाहर से ही महाकाल के दर्शन कर सकेंगे. 

भक्तों ने जताई कोरोना खत्म होने की उम्मीद
दर्शन नहीं कर पाने से भक्त नाराज जरूर हैं, लेकिन उन्हें उम्मीद है कि महाकाल की कृपा से उन्हें जल्द ही संक्रमण से मुक्ति मिलेगी. मंदिर के पुजारी ने बताया कि सावन माह में हर दिन महाकाल का आकर्षक श्रृंगार किया जाएगा. मानव जाति को कोरोना से मुक्ति दिलाने के लिए प्रार्थना भी जारी है. 

यह भी पढ़ेंः- भोपाल में भीषण सड़क हादसा, ट्रक में i20 कार ने मारी टक्कर, 4 की मौके पर मौत

WATCH LIVE TV