Video: फिर कुर्ता-धोती पहनकर महाकाल मंदिर पहुंचीं उमा भारती, नाराज पुजारियों ने गिफ्ट की साड़ी

उमा भारती बाबा महाकाल के दर्शन के लिए गर्भ गृह पहुंचीं थीं, लेकिन पिछली बार की ही तरह इस बार भी उन्होंने कुर्ता-धोती ही पहन रखा था, जिसे देखकर पुजारियों ने उमा भारती को साड़ी भेंट की.

Video: फिर कुर्ता-धोती पहनकर महाकाल मंदिर पहुंचीं उमा भारती, नाराज पुजारियों ने गिफ्ट की साड़ी
महाकालेश्वर मंदिर के पुजारी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती को साड़ी गिफ्ट की.

उज्जैनः बीते 30 जुलाई को उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर दर्शन के लिए पहुंचीं पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती उस वक्त विवादों में घिर गईं, जब वह मंदिर के ड्रेस कोड साड़ी की जगह कुर्ता-धोती पहनकर बाबा महाकाल के दर्शन के लिए पहुंचीं और मंदिर के पुजारियों ने इस पर नाराजगी जाहिर की. ऐसे में आज एक बार फिर उमा भारती बाबा महाकाल के दर्शन के लिए गर्भ गृह पहुंचीं थीं, लेकिन पिछली बार की ही तरह इस बार भी उन्होंने कुर्ता-धोती ही पहन रखा था, जिसे देखकर नाराज पंडे-पुजारियों ने उमा भारती को एक साड़ी भेंट की.

पुजारियों को साड़ी भेंट करने पर उमा भारती ने कहा कि 'मुझे साड़ी पसंद है. मंदिर के पुजारियों ने मुझे साड़ी गिफ्ट की है. अब जब अगली बार आऊंगी तो इसे पहनकर ही मंदिर में बाबा महाकाल के दर्शन करूंगी.' बता दें बीते 30 जुलाई को जब उमा भारती बाबा महाकाल के दर्शन के लिए पहुंची थीं तो मंदिर के ड्रेस कोड साड़ी की जगह उन्होंने हमेशा की तरह कुर्ता-धोती पहन रखी थी. इस पर जब मंदिर के पुजारियों ने नाराजगी जाहिर की तो उनका कहना था कि ''बाबा महाकाल के दरबार में जींस-टीशर्ट पहनकर आने पर बैन है. मैंने जींस नहीं पहना है.'

देखें लाइव टीवी

महाकाल के दरबार में महिलाओं के लिए तय ड्रेस कोड साड़ी पर बात करते हुए उमा भारती ने कहा कि 'अगर पुजारी जी कह रहे हैं तो उनकी भी बात मान्य है. वह मुझे साड़ी गिफ्ट कर दें, मैं अगली बार साड़ी पहन के आ जाऊंगी.' ऐसे में अब जब एक बार फिर उमा भारती बाबा महाकाल के दर्शन के लिए कुर्ता-धोती पहनकर मंदिर पहुंचीं तो नाराज पुजारियों ने उन्हें साड़ी गिफ्ट कर दी.

उमा भारती ने महाकाल मंदिर के पुजारी से कहा- 'आप मुझे साड़ी गिफ्ट कर दें, अगली बार वही पहन कर आऊंगी'

बता दें इससे पहले उमा भारती के दिए बयान पर मंदिर के पुजारी ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि यह सवाल किसी एक व्यक्ति को लेकर नहीं है, यह सवाल महाकाल मंदिर की बरसों से चली आ रही परंपरा को लेकर है. बता दें उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में महिलाओं के लिए साड़ी और पुरुषों के लिए धोती पहनकर आना होता है और इसी के चलते मंदिर के पुजारियों ने उमा भारती के कुर्ता-धोती पहनकर आने पर आपत्ति जाहिर की थी.