कंगना रनौत vs शिवसेना विवाद ने पकड़ा तूल, अब राष्ट्रीय महिला आयोग ने दिया ये बड़ा बयान

शिवसेना (Shivsena) विधायक प्रताप सरनाईक ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा था कि अगर कंगना रनौत (Kangana Ranaut) यहां आती हैं तो हम उसका मुंह तोड़ देंगे. मैं गृह मंत्री से मांग करता हूं कि कंगना के खिलाफ राज द्रोह का केस दर्ज हो.

कंगना रनौत vs शिवसेना विवाद ने पकड़ा तूल, अब राष्ट्रीय महिला आयोग ने दिया ये बड़ा बयान

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के बचाव में राष्ट्रीय महिला आयोग आ गया है. राष्ट्रीय महिला आयोग ने शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक की गिरफ्तारी की मांग की है. शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने कंगना रनौत को धमकी दी थी.

दरअसल शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा था कि सांसद संजय राउत ने कंगना को नम्रता भरे शब्दों से समझा दिया है. अगर फिर भी वो यहां आती हैं तो हम उसका मुंह तोड़ देंगे. मैं गृह मंत्री से मांग करता हूं कि कंगना के खिलाफ राज द्रोह का केस दर्ज हो क्योंकि उन्होंने इंडस्ट्रियल और सेलिब्रिटी बनाने वाली मुंबई की पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से तुलना की है.

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर एक ट्वीट किया था, जिसके लेकर शिवसेना और कंगना के बीच ठन गई थी. उन्होंने कहा था कि मैंने 9 सितंबर को मुंबई की यात्रा करने का फैसला किया है. किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले. इसके बाद कंगना ने एक और ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा कि किसी के बाप का महाराष्ट्र नहीं है.

कंगना रनौत का पहला ट्वीट
एक्ट्रेस कंगना रनौत ने अपने पहले ट्वीट में लिखा, 'किसी के बाप का नहीं है महाराष्ट्र, महाराष्ट्र उसी का है जिसने मराठी गौरव को प्रतिष्ठित किया है और मैं डंके की चोट पर कहती हूं हां, मैं मराठा हूं, उखाड़ो मेरा क्या उखाड़ोगे?' 

ये भी पढ़े- 5 सितंबर: भारत की गुरु-शिष्य परंपरा का खास दिन, जानिए क्यों मनाते हैं Teacher's Day

कंगना रनौत का दूसरा ट्वीट
अपने दूसरे ट्वीट में कंगना ने लिखा, 'इनकी औकात नहीं है, इंडस्ट्री के सौ सालों में एक भी फिल्म मराठा प्राइड पर बनाई हो, मैंने इस्लाम डॉमिनेट इंडस्ट्री में अपनी जान और करियर को दांव पर लगाया, शिवाजी महाराज और रानी लक्ष्मीबाई पर फिल्म बनाई. आज महाराष्ट्र के इन ठेकेदारों से पूछो किया क्या है महाराष्ट्र के लिए?'

बता दें कि कंगना ने गुरुवार को शिवसेना सांसद संजय राउत को आड़े हाथों ले लिया था. दरअसल संजय राउत ने उन्हें धमकी भरे लहजे में मुंबई वापस नहीं आने को कहा था, जिस पर कंगना बिगड़ गई थीं और उन्होंने शिवसेना के राज में मुंबई की तुलना पीओके से कर दी थी.

ये भी देखें-