लॉकडाउन: 1 अप्रैल से यादगार बन जाएंगे इन 6 बैंकों के नाम, जानें कौन किस नाम से जाना जाएगा

ग्राहक और​ डिपॉजिटर्स भी अब नए बैंक के ग्राहक बन जाएंगे. 1 अप्रैल से देश के 6 सरकारी बैंकों का अस्तित्व बदल जाएगा.  

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Mar 29, 2020, 09:08 AM IST

नई दिल्ली: लॉकडाउन के बीच 6 बैंकों का विलय होने जा रहा है. 1 अप्रैल से देश के 6 सरकारी बैंकों का अस्तित्व बदल जाएगा. इस दिन से 6 बैंक किसी और बैंक के साथ मर्ज हो जाएंगे और अपना पुराना नाम खो देंगे. इसके साथ ही ग्राहक और​ डिपॉजिटर्स भी अब नए बैंक के ग्राहक बन जाएंगे.

1/6

इलाहाबाद बैंक

allahabad bank merger

1 अप्रैल से इलाहाबाद बैंक के सभी ब्रांच इंडियन बैंक के माने जाएंगे. 

2/6

सिंडिकेट बैंक

syndicate bank

1 अप्रैल से सिंडिकेट बैंक का विलय केनरा बैंक में होने जा रहा है. ​बैंक के ग्राहकों को केनरा बैंक का ग्राहक माना जाएगा. 

3/6

यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया

united bank of india

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के ब्रांच पंजाब नेशनल बैंक के हो जाएंगे. पीएनबी देश का तीसरा सबसे बड़ा बैंक माना जाता रहा है. पीएनबी से पहले बैंक ऑफ बड़ौदा और एसबीआई का नंबर आता है. 

4/6

oriental bank of commerce

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के ब्रांच पंजाब नेशनल बैंक के हो जाएंगे.

5/6

कॉरपोरेशन बैंक

corporation bank

यूनियन बैंक में आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक का भी विलय होने वाला है.

6/6

आंध्र बैंक

andhra bank

आंध्र और कॉरपोरेशन बैंक के ब्रांच 1 अप्रैल से यूनियन बैंक के माने जाएंगे. ग्रा​हक भी अब यूनियन बैंक के होंगे.