कहां हुआ था Lord Hanuman का जन्म? इस पुस्तक में छिपा है राज

भगवान हनुमान (Lord Hanuman) का जन्म कहां हुआ था? इस सवाल का जवाब बहुत की कम लोग जानते होंगे. लेकिन बहुत ही जल्द एक ऐसी किताब का विमोचन होने जा रहा है, जिसमें हनुमान के जन्म स्थान के बारे में साक्ष्य के साथ बताया गया है. ये पुस्तक आजकल चर्चाओं का विषय बनी हुई है. आइए जानते हैं इसके बारे में...

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Apr 11, 2021, 20:42 PM IST
1/5

तिरुमला की पहाड़ियों पर हुआ हनुमान का जन्म

Hanuman was born on the hills of Tirumala

तिरुमला की सात पवित्र पहाड़ियों में से एक पर भगवान हनुमान का जन्म हुआ था. ये दावा करने वाली एक ‘साक्ष्य’ आधारित पुस्तक का विमोचन 13 अप्रैल को किया जाएगा.

2/5

'अंजनाद्रि' पहाड़ी से जमा किए गए साक्ष्य

Evidence collected from 'Anjanadri' hill

पिछले साल दिसंबर में TTD के कार्यकारी अधिकारी केएस जवाहर रेड्डी ने विद्वानों की एक उच्चस्तरीय समिति का गठन किया था. इस समिति का गठन अध्ययन करने और सात पहाड़ियों में से एक ‘अंजनाद्रि’ में प्रमाण एकत्रित करने के लिए किया गया था.

3/5

तेलुगू नववर्ष के दिन होगा किताब का विमोचन

Book will be released on Telugu new year

तिरुमला तिरुपति देवस्थानम (TTD) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि खगोलीय (Astronomical), पुरालेखीय (Archival), वैज्ञानिक और पौराणिक प्रमाण (Scientific and mythological evidence) वाली इस पुस्तक को तेलुगू नववर्ष के दिन 'उगादि' पर लॉन्च किया जाएगा.

4/5

दक्षिण में 'श्री अंजनीस्वामी' के नाम से जाने जाते हैं हनुमान

Hanuman is known as 'Sri Anjaneeswamy' in the south

तेलुगू देशम पार्टी के प्रवक्ता एन बी सुधाकर रेड्डी, ने कहा कि ‘यह विश्वास करने की पूरी संभावनाएं हैं कि भगवान हनुमान का जन्म तिरुमला पहाड़ियों पर हुआ था.’ हनुमान को दक्षिण भारत में 'श्री अंजनीस्वामी' के नाम से जाना जाता है.

5/5

देवताओं के जन्मस्थल की खोज उचित नहीं

Search for the birthplace of the gods is not appropriate

हालांकि राष्ट्रीय पाण्डुलिपि मिशन के पूर्व डायरेक्टर प्रो. वी वेंकटरमण रेड्डी ने कहा कि देवताओं के जन्मस्थल पर इस तरह की खोज उचित नहीं है. जबकि तिरुमला में स्थित श्री वेंकटेश्वर मंदिर के मुख्य पुजारी एवी रमना दीक्षितुलु ने इस संबंध में टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.