PM Modi ने किया कोच्चि-मंगलुरु गैस पाइपलाइन का उद्घाटन, कहा- 10 हजार CNG स्टेशन खोलने का लक्ष्य
X

PM Modi ने किया कोच्चि-मंगलुरु गैस पाइपलाइन का उद्घाटन, कहा- 10 हजार CNG स्टेशन खोलने का लक्ष्य

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मंगलवार को कोच्चि-मंगलुरू (Kochi-Mangaluru) प्राकृतिक गैस पाइपलाइन (Natural Gas Pipeline) को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देश को समर्पित किया.

PM Modi ने किया कोच्चि-मंगलुरु गैस पाइपलाइन का उद्घाटन, कहा- 10 हजार CNG स्टेशन खोलने का लक्ष्य

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मंगलवार को कोच्चि-मंगलुरू (Kochi-Mangaluru) प्राकृतिक गैस पाइपलाइन (Natural Gas Pipeline) का उद्घाटन किया. पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए गैस पाइपलाइन को देश को समर्पित किया. 450 किलोमीटर लंबी इस पाइपलाइन का निर्माण गेल (भारत) लिमिटेड ने किया है. इस दौरान केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री के साथ कर्नाटक और केरल के राज्यपाल और मुख्यमंत्री कार्यक्रम में मौजूद रहे.

'मिलकर काम करें, तो कोई भी लक्ष्य कठिन नहीं होता'

उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कहा, 'इस 450 किलोमीटर कोच्चि-मंगलुरु प्राकृतिक गैस पाइपलाइन को राष्ट्र को समर्पित करना सम्मान है. मैं स्वच्छ ऊर्जा अवसंरचना प्रदान करने के लिए कदम उठाने के लिए लोगों और सभी हितधारकों को बधाई देता हूं. कोच्चि-मंगलुरु पाइप लाइन इस बात का बहुत बड़ा उदाहरण है कि विकास को प्राथमिकता देकर सभी मिलकर काम करें, तो कोई भी लक्ष्य कठिन नहीं होता.

लाइव टीवी

ये भी पढ़ें- भारत-चीन विवाद को लेकर बड़ी खबर, चीन ने भारतीय चौकियों के सामने तैनात किए टैंक

देशभर में 10 हजार CNG स्टेशन खोलने का प्लान

पीएम मोदी ने कहा, 'भारत का पहला CNG स्टेशन साल 1992 में शुरू हुआ था. 22 सालों में यानी 2014 तक देशभर में सिर्फ 900 CNG स्टेशन थे. पिछले छह सालों में, लगभग 1500 नए सीएनजी स्टेशन शुरू किए गए हैं. सरकार इस संख्या को 10 हजार तक ले जाने के लिए काम कर रही है.'

पीएम मोदी ने 10 फायदों का किया जिक्र

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कोच्चि-मंगलुरू (Kochi-Mangaluru) गैस पाइपलाइन से होने वाले 10 फायदों की जानकारी दी. उन्होंने कहा, 'कहने को तो ये पाइप लाइन है, लेकिन दोनों राज्यों के विकास को गति देने में इसकी बहुत बड़ी भूमिका होने वाली है. इस प्रोजेक्ट में कई दिक्कतें भी आईं, लेकिन हमारे श्रमिकों, इजीनियरों, किसानों और राज्य सरकारों के सहयोग से ये काम पूर्ण हुआ.'

ये भी पढ़ें- अब मकान बनाने में ईंट-गारे की जरूरत नहीं, खिलौने की तरह जोड़े जाएंगे ब्‍लॉक

पाइपलाइन से होंगे ये 10 बड़े फायदे

1. ये पाइप लाइन दोनों राज्यों में लाखों लोगों के लिए ईज ऑफ लिविंग बढ़ाएगी.
2. ये पाइप लाइन दोनों ही राज्यों के गरीब, माध्यम वर्ग और उद्यमियों के खर्च कम करेगी.
3. ये पाइप लाइन शहरों में सिटी गैस डिस्ट्रब्यूशन सिस्टम का माध्यम बनेगी.
4. ये अनेक शहरों में सीएनजी आधारित ट्रांस्पोर्ट सिस्टम को विकसित करने का माध्यम बनेगी.
5. ये मैंगलोर कैमिकल और फर्टिलाइजर प्लांट को ऊर्जा देगी, कम खर्च में खाद बनाने में मदद करेगी.
6. ये पाइप लाइन मैंगलोर रिफाइनरी और पेट्रो कैमिकल को ऊर्जा देगी, स्वच्छ ईंधन देगी.
7. ये दोनों ही राज्यों में प्रदूषण कम करेगी.
8. प्रदूषण कम करने का सीधा असर पर्यावरण पर होगा.
9. पर्यावरण बेहतर होने से लोगों की सेहत अच्छी होगी.
10. जब प्रदूषण कम होगा, शहरों में गैस आधारित सेवा होगी, तो टूरिज्म को भी बढ़ावा मिलेगा.

'6 साल में दिए गए 14 करोड़ नए LPG कनेक्शन'

पीएम मोदी (Narendra Modi) ने कहा, '2014 तक हमारे देश में सिर्फ 25 लाख पीएनजी कनेक्शन थे. आज देश में 72 लाख से ज्यादा घरों की रसोई में पाइप लाइन से गैस पहुंच रही है. कोची-मैंगलुरू पाइप लाइन से 21 लाख नए लोग पीएनजी सेवा का लाभ ले पाएंगे.' उन्होंने आगे कहा, 'लबें समय तक भारत मे LPG कवरेज की स्थिति क्या रही ये हम सभी जानते हैं. 2014 तक जहां 14 करोड़ LPG कनेक्शन देश में थे, वहीं बीते 6 वर्षों में इतने ही नए कनेक्शन और दिए गए हैं. उज्ज्वला योजना जैसी स्कीम से देश के 8 करोड़ से ज्यादा परिवारों के घर कुकिंग गैस तो पहुंची ही है. साथ ही इससे एलपीजी से जुड़ा इंफ्रास्ट्रक्चर भी देश में मजबूत हुआ है.'

Trending news