close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान पुलिस प्रशिक्षण केंद्र के दीक्षांत समारोह में 442 महिला कांस्टेबल बेड़े में हुईं शामिल

पुलिस महानिदेशक भूपेंद्र सिंह यादव ने शक्ति और सद्भाव का उल्लेख करते हुए कहा कि ट्रेनिंग लेने वाले जवानो को चाहिए कि अपने क्षेत्र में जाकर पूरे विश्वास और निष्ठा से अपनी डयूटी का निर्वहन करें. 

राजस्थान पुलिस प्रशिक्षण केंद्र के दीक्षांत समारोह में 442 महिला कांस्टेबल बेड़े में हुईं शामिल
डीजीपी ने 442 महिला कॉन्स्टेबल को कर्तव्य परायणता की शपथ दिलाई.

भवानी भाटी/जोधपुर: राजस्थान पुलिस ट्रेनिंग सेंटर का 55 वा दीक्षांत समारोह राजस्थान के पुलिस महानिदेशक डॉ भूपेंद्र सिंह यादव के मुख्य आतिथ्य में आयोजित किया गया. राजस्थान पुलिस प्रशिक्षण केंद्र के सुल्तान सिंह स्टेडियम में आयोजित दीक्षांत समारोह में अरपीटीसी व पीटीएस के 442 महिला कांस्टेबल पुलिस बेड़े में शामिल हुई. जहां डीजीपी डॉ भूपेंद्र सिंह यादव ने 442 महिला कॉन्स्टेबल को कर्तव्य परायणता की शपथ दिलाई साथ ही इस अवसर पर विभिन्न प्रतियोगिताओं में अव्वल स्थान हासिल करने वाली महिला कॉन्स्टेबल को सम्मानित भी किया गया. 

पुलिस महानिदेशक भूपेंद्र सिंह यादव ने परेड का निरीक्षण करने के साथ परेड की सलामी ली और उसके साथ ही अपने संबोधन में शक्ति और सद्भाव का उल्लेख करते हुए कहा कि ट्रेनिंग लेने वाले जवानो को चाहिए कि अपने क्षेत्र में जाकर पूरे विश्वास और निष्ठा से अपनी डयूटी का निर्वहन करें. साथ ही अच्छे व्यवहार से सद्भाव भी कायम करें. उन्होंने इस अवसर पर महिला आरक्षण का जिक्र करते हुए कहा कि जितने महिला कॉन्स्टेबल भर्ती होनी चाहिए उतनी नहीं हो पाती है इसलिए महिलाओं को भी पुलिस बेड़े में आने का आह्वान किया.

समारोह के दौरान महिला पुरूष कॉन्स्टेबल ने परेड,पीटी परेड के साथ ही लेजियम, योगा, मार्शल आर्ट, कराटे का अधिकारियों के सामने प्रदर्शन कर खूब तालियां बंटोरी. इससे पूर्व समारोह में डीजी ट्रेनिंग राजीव दासोत ने संबोधित करते हुए राजस्थान पुलिस ट्रेनिंग सेंटर द्वारा पिछले 1 साल में 11000 पुलिस कांस्टेबल को गुणवत्ता वाली ट्रेनिंग दिए जाने का उल्लेख करते हुए कहा कि क्वालिटी वाली ट्रेनिंग के कारण ही पूरे देश भर में इस संस्थान का गौरव लगातार बढ़ता जा रहा है. 

इस अवसर पर पुलिस ट्रेनिंग सेंटर के प्राचार्य डॉ विष्णु कांत ने भी प्रतिवेदन पेश करने के साथ ट्रेनिंग के अलग-अलग पहलुओं से अवगत कराया. इस कार्यक्रम में रेंज आईजी सचिन मित्तल, पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार, भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के डीआईजी सवाई सिंह गोदारा,डीसीपी डॉ रवि व प्रीति चंद्रा, रेलवे एसपी ममता विश्नोई, ग्रामीण एसपी राहुल बारहठ के अलावा रिटायर पुलिस अधिकारियों ने भी शिरकत की.