Jaipur News

alt
.प्रदेश के नामी-गिनामी सरकारी अस्पताल आज खुद बीमार नजर आ रहे हैं.सरकारें लाख दावा करें..कि हमारे यहां वर्ल्ड क्लासकी सुविधा मरीजों को दी जा रही है..लेकिन हकीकत में सरकारी दावे खोखले है.और अस्पताल में मरीज अपनी जान बचाने के लिए अब भगवान भरोसे है.ताजा मामला कोटा के एमबीएस अस्पताल का है.जहां गूलन बेरी सिंड्रोम से पीड़ित महिला को स्ट्रोक यूनिट के आईसीयू में रखा गया था.लेकिन अस्पताल प्रशासन की लापरवाही के चलते पीड़ित महिला की ऑख को चूहा कूतर गया.जब इस बात की शिकायत परिजनों ने अस्पताल प्रशासन से की.तो अस्पताल प्रशासन ने घटना की जांच के लिए कमेटी बनाकर अपनी जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ लिया.वहीं क
May 18,2022, 21:40 PM IST
alt
.प्रदेश के नामी-गिनामी सरकारी अस्पताल आज खुद बीमार नजर आ रहे हैं.सरकारें लाख दावा करें..कि हमारे यहां वर्ल्ड क्लासकी सुविधा मरीजों को दी जा रही है..लेकिन हकीकत में सरकारी दावे खोखले है.और अस्पताल में मरीज अपनी जान बचाने के लिए अब भगवान भरोसे है.ताजा मामला कोटा के एमबीएस अस्पताल का है.जहां गूलन बेरी सिंड्रोम से पीड़ित महिला को स्ट्रोक यूनिट के आईसीयू में रखा गया था.लेकिन अस्पताल प्रशासन की लापरवाही के चलते पीड़ित महिला की ऑख को चूहा कूतर गया.जब इस बात की शिकायत परिजनों ने अस्पताल प्रशासन से की.तो अस्पताल प्रशासन ने घटना की जांच के लिए कमेटी बनाकर अपनी जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ लिया.वहीं क
May 18,2022, 21:40 PM IST
Read More

Trending news