राजस्थान में नहीं लागू होगा CAA-NRC, सीएम अशोक गहलोत ने किया साफ

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक ट्वीट कर इस बिल को अव्यावहारिक करार दिया है. गहलोत ने लिखा है कि केंद्र सरकार को तुरंत इससे रिपील करना चाहिए. 

राजस्थान में नहीं लागू होगा CAA-NRC, सीएम अशोक गहलोत ने किया साफ
इस बिल ने हिंदू और मुसलमान सहित सभी समुदायों को सकते में डाल दिया है.

जयपुर: एक ओर जहां नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship Amendment Act) और एनआरसी (National Register of Citizens) को लेकर देशभर में विरोध चल रहा है, वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने साफ कर दिया है कि देश के जिन 8 राज्यों में यह बिल लागू नहीं होगा, उनमें राजस्थान भी शामिल है यानी अशोक गहलोत ने साफ कर दिया कि राजस्थान में इस बिल को लागू नहीं किया जाएगा.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक ट्वीट कर इस बिल को अव्यावहारिक करार दिया है. गहलोत ने लिखा है कि केंद्र सरकार को तुरंत इससे रिपील करना चाहिए. अशोक गहलोत ने अपने ट्वीट में लिखा है कि विपक्षी पार्टियों के विरोध और सलाह के बावजूद बहुमत के अभिमान में केंद्र सरकार ने एक तो बना दिया लेकिन देश के सभी समुदाय के छात्र और युवा सड़कों पर उतर रहे हैं. 

इस बिल ने हिंदू और मुसलमान सहित सभी समुदायों को सकते में डाल दिया है. यह सब को परेशान करने वाला है. यही कारण है कि पश्चिम बंगाल, बिहार, पंजाब, केरल, उड़ीसा, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में इसे लागू नहीं किया जाएगा. एनडीए सरकार को इसे तुरंत रिपील किया जाना चाहिए.

गौरतलब है कि 22 दिसंबर को जयपुर में कांग्रेस इस बिल के खिलाफ एक शांति मार्च भी निकालने जा रही है, जिसमें कांग्रेस सहित विभिन्न दलों विभिन्न संगठनों नागरिक समूहों के लोग अल्बर्ट हॉल से लेकर महात्मा गांधी सर्किल तक पैदल मार्च करेंगे.