अलवर: पति ने दिया ट्रिपल तलाक, 'अब तू बहू नहीं है' कहकर रिश्तेदारों ने किया गैंगरेप

तलाक के बाद गैंगरेप का मामला दर्ज हुआ है. ट्रिपल तलाक के नए कानून के तहत पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. भिवाड़ी क्षेत्र की एक विवाहिता को सुबह उसके पति ने तीन तलाक दिया और रात को उसके साथ ससुर सहित दो लोगों ने देशी कट्टे की नोक पर लेकर दुष्कर्म किया.

अलवर: पति ने दिया ट्रिपल तलाक, 'अब तू बहू नहीं है' कहकर रिश्तेदारों ने किया गैंगरेप
विवाहिता ने तलाक के बाद ससुर और जेठ द्वारा दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाया है.

जुगल गांधी, अलवर: जिले के भिवाड़ी (Bhiwadi) महिला थाने में एक विवाहिता को ट्रिपल तलाक (Triple Talaq) देने के बाद उसके ससुर और एक अन्य व्यक्ति के द्वारा गैंगरेप (Gangrape) किए जाने का मामला दर्ज हुआ है.

तलाक के बाद गैंगरेप का मामला दर्ज हुआ है. ट्रिपल तलाक के नए कानून के तहत पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. भिवाड़ी क्षेत्र की एक विवाहिता को सुबह उसके पति ने तीन तलाक दिया और रात को उसके साथ ससुर सहित दो लोगों ने देशी कट्टे की नोक पर लेकर दुष्कर्म किया और उसे जान से मारने की धमकी दी गई. पीड़िता ने घटना की शिकायत भिवाड़ी के महिला थाने में दर्ज कराई है. पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करा कर उसके बयान कोर्ट में दर्ज करवाए हैं.

पीड़िता ने बताई पूरी कहानी
25 वर्षीय विवाहित पीड़िता ने बताया कि उसकी शादी वर्ष 2015 में भिवाड़ी के इलाके के एक गांव में हुई थी. पिता ने मुस्लिम रीति-रिवाज से शादी कर अपनी क्षमता के हिसाब से दहेज भी दिया था, लेकिन पति, देवर और ससुर ने और दहेज की मांग करते हुए प्रताड़ित करना शुरु कर दिया. इस दरम्यान उसने एक बेटी को भी जन्म दिया. दहेज की मांग को लेकर 20 से 23 नवंबर के बीच आरोपियों ने पीड़िता से मारपीट की उसको कमरे में बंधक बनाकर प्रताडि़त किया. 22 नवंबर की सुबह उसका पति कमरे में आया और तीन बार बोलकर तलाक देकर कमरे से बाहर चला गया. उसी रात करीब 11-12 बजे ससुर ओर उसके एक अन्य साथी ने एकसाथ कमरे में घुस कर उसके कनपटी पर देशी कट्टा लगा दिया. 

ससुर बोला - तू अब बहू नहीं है
पीड़िता के ससुर ने कहा कि तुझे मेरे बेटे ने तलाक दे दिया है, इसलिए अब तू मेरी पुत्रवधू नहीं है. तभी ससुर के साथ आए व्यक्ति ने उसकी कनपटी पर देसी कट्टा लगा दिया था. इसके बाद दोनों ने जबरन दुष्कर्म किया और कहा कि किसी को बताया तो जिंदा नहीं रहेगी. अगली सुबह वह मौका पाकर कमरे से बाहर आ गई और पिता को फोन कर आपबीती बताई. इसके बाद पिता की मदद से पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई. पिता जब भतीजे के साथ टपूकड़ा आया और बेटी को लेकर वापिस उसके ससुराल आया तो तीनों के साथ मारपीट की गई. बाद में पुलिस उन्हें छुड़ा कर ले गई थी.

क्या कहना है पुलिस का
डीएसपी भिवाड़ी हरिराम कुमावत ने बताया कि विवाहिता ने तलाक के बाद ससुर और जेठ द्वारा दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाया है. आरोपियों की तलाश जारी है. महिला थाना पुलिस ने धारा 498ए, 323, 376 डी सहित 3, 4 मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) एक्ट- 2019 में मामला दर्ज कर लिया है. मामले की जांच भिवाड़ी सीओ हरिराम कुमावत को सौंपी गई है. तीन तलाक को लेकर बने नए मुस्लिम महिला विवाह कानून में दर्ज किया गया यह जिले का पहला प्रकरण है.