Chittorgarh Robbery: महिला के गले पर तलवार रख की गई डकैती, इस बड़ी गैंग ने दिया था अंजाम
topStories1rajasthan1542902

Chittorgarh Robbery: महिला के गले पर तलवार रख की गई डकैती, इस बड़ी गैंग ने दिया था अंजाम

चित्तौड़गढ़ कनेरा थाने के अनोपपुरा गांव में नरेन्द्र सिंह के मकान से करीब 8 से 10 अज्ञात बदमाश महिला के गले पर तलवार रख लगभग 35 तोला सोना व चांदी के आभूषण लूट ले जाने के मामले का पुलिस ने खुलासा करते हुए मध्यप्रदेश के बाच्छडा गैंग के 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लुटा गया माल को बरामद कर लिया है.

 

Chittorgarh Robbery: महिला के गले पर तलवार रख की गई डकैती, इस बड़ी गैंग ने दिया था अंजाम

Chittorgarh Robbery News: निम्बाहेड़ा उपखंड के कनेरा थाने क्षेत्र के अनोपपुरा गांव में नरेन्द्र सिंह के मकान से करीब 8 से 10 अज्ञात बदमाश महिला के गले पर तलवार रख लगभग 35 तोला सोना व चांदी के आभूषण लूट ले जाने के मामले का कनेरा थाना पुलिस व साइबर सेल द्वारा खुलासा करते हुए मध्यप्रदेश के बाच्छडा गैंग के 3 आरोपियों को बापर्दा गिरफतार व 1 नाबालिग को डिटेन कर लुटा गया माल बरामद कर लिया है.

8 से 10 अज्ञात बदमाश घर मे घुस वारदात को दिया अंजाम

पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यंत ने बताया कि 15 जनवरी को कनेरा के अनोपपुरा निवासी नरेन्द्र सिंह के मकान पर उसकी पत्नी व बेटा अपने कमरे में सोए थे. करीब रात्रि तीन बजे 8 से 10 अज्ञात बदमाश घर मे घुस उसके बेटे के कमरे के दरवाजे के बाहर से कुंदा लगा, उसकी पत्नी के कमरे का दरवाजा तोड़ कमरे में घुस गले पर तलवार रख उसके पहने गहने मंगलसुत्र व कान के टोप्स खुलवा कर मकान में पडे़ बक्से व पेटी का ताला तोड़ बक्से मे रखे उसके लड़के की पत्नी के जेवरात एवं उसकी पत्नी के करीब 35 तोला सोना चांदी के जेवरात ले गये. इसके साथ गांव में ही जगपाल सिंह के मकान से एक मोटर साईकल चुरा कर ले गये व पास के सभी मकानों के किवाड़ो के बाहर की कुन्डी लगा गये. डॉग स्क्वायड, एमओबी टीम व साईबर टीम द्वारा घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण कर महत्वपूर्ण साक्ष्य एकत्रित किये.

 मध्यप्रदेश के बाच्छडा गैंग का हाथ

मामले की गम्भीरता को देखते हुए एसपी श्री दुष्यंत द्वारा घटनास्थल का स्वयं निरिक्षण कर वारदात का शीघ्र खुलासा करने का आश्वासन दिया. पुलिस उप अधीक्षक निम्बाहेड़ा आशीष कुमार के मार्गदर्शन में कनेरा थानाधिकारी घेवरचंद के नेतृत्व में कोतवाली निम्बाहेडा से एएसआई सूरज कुमार, थाना कनेरा से हैडकानि नन्दकिशोर, साईबर सैल से कानि रामावतार, प्रवीण, कमलेश, थाना कनेरा से कानि हेमराज, माणकराम, मुकेश, रेवताराम, हरप्रीत व बृजमोहन की विशेष पुलिस टीम का गठन किया गया.

कई ठिकानों व जगलों में दबिश दी गई

घटना के बाद से ही एसपी श्री दुष्यंत द्वारा मौका मुआयना करने के बाद गठित विशेष टीम द्वारा लगातार घटना स्थल के सीसीटीवी फुटेज चैक किये व घटना स्थल पर साईबर टीम द्वारा तकनीकी रुप से जानकारी जुटाई व इस तरह की वारदात करने वाले जरायम पेशा लोगों को चिन्हित कर उनकी एक्टीविटी पर नजर रखी. जिस पर टीम को इस वारदात में एमपी के निमच जिले के पिपलीया रुडी व चडौली गॉव के बाच्छड़ा जाति के लोगों द्वारा घटना कारीत करना पाया.

ये भी पढ़ें- नाबालिग से गैंगरेप मामले में दो दोषियों को उम्रकैद की सजा, मुख्य दोषी पर 3 लाख का जुर्माना

जिनको आईडेन्टीफाई किया व प्रारम्भिक एवं नवीन तरीकों से संदिग्धों की गतिविधियों पर निगरानी रखी व उनके रहने एवं छुपने के स्थानों को गोपनीय रूप से चिन्हित करते हुए उन्ही मुल्जिमों के घरों पर पहुंची तो सभी आरोपी गायब मिले. जिस पर टीम द्वारा वहां पर मुखबिर मामुर किये उक्त मुखबिर सुचना पर सदिग्ध आरोपियों के ठिकानों पर लगातार दबिश दी गई तो सभी आरोपी जगलों में छुपे होने की जानकारी मिली. जिस पर टीमों द्वारा उनके छुपें हुए ठिकानों पर जगलों में दबिश दी गई. सभी आरोपी भाग गये जिस पर टीम द्वारा करीब 3 किलोमीटर तक उनका पीछा कर 3 आरोपियों को डिटेन किया.

10 लाख कीमत के सोने चांदी के जेवरात बरामद

तीनों आरोपियों मध्यप्रदेश के पिपल्या रूंडी थाना मनासा निवासी 20 वर्षीय राकेश पुत्र मदन बाच्छडा, 22 वर्षीय सतीश पुत्र पपू बाच्छडा व चडोली बस्ती थाना निमच सिटी निवासी 25 वर्षीय बबलू पिता गुमान जाति बाच्छडा उम्र 25 साल निवासी को पुछताछ के बाद बापर्दा गिरफ्तार किया गया एंव घटना में शामिल एक विधी से संघर्षरत किशोर को डिटेन किया गया. गिरफतार आरोपियों से लुटा गये सोने व चांदी के जेवरात बरामद किये गये. गिरफ्तार आरोपियों को न्यायालय में पेशकर पुलिस रिमाण्ड प्राप्त किया गया, जिनसे अन्य मामलो में पुछताछ की गई तो उन्होंने 11 जनवरी को गांव सरसी थाना कनेरा में भी इसी तरह की घटना को अन्जाम देना स्वीकार किया.

Trending news